बुधवार को गंगा को बचाने के लिए अनशन कर रहे सामाजिक कार्यकर्ता संत गोपालदास संदिग्ध परिस्थितियों में दून अस्पताल से लापता हो गए.वह हाल ही में दिल्ली एम्स से दून अस्पताल लाए गए थे. देर रात तक पुलिस टीम उनकी तलाश करती रही लेकिन संत गोपालदास का कुछ पता नहीं चल सका.

गुरुवार को देहरादून के सर्किल ऑफिसर चंद्र मोहन सिंह ने कहा कि हमे खबर मिली कि संत गोपालदास जो की अस्पताल में भर्ती थे वो अचानक गायब हो गए. हम सीसीटीवी फुटेज को देख रहे हैं और उनकी तलाश की जा रही है.

जानकारी के लिए आपको बता दें कि वह स्वामी सानंद की मांगों के समर्थन में अनशन कर रहे थे. स्वामी सानंद का आमरण अनशन के 112वें दिन ऋषिकेश स्थित एम्स अस्पताल में निधन हो गया था. इसके बाद सानंद की मांगों के समर्थन में उनकी जगह गोपालदास अनशन पर बैठ गए थे लेकिन स्वास्थ्य बिगड़ने के चलते उन्हें ऋषिकेश एम्स में भर्ती कराया गया था. वहां से उन्हें सोमवार को दिल्ली के एम्स रिफर कर दिया गया था.

इसके बाद दिल्ली से डिस्चार्ज होकर वह बुधवार को दून अस्पताल पहुंचे थे. उनके शिष्य ने तीमारदार के तौर पर संत को भर्ती कराया था. इसके बाद देर शाम तक कर्मचारियों ने उनके कमरे में जाकर देखा तो संत और तीमारदार दोनों गायब थे. पुलिस प्रशासन काफी समय तक उन्हें ढूंढती रही लेकिन कोई सूचना नहीं मिली.





See More

 
Top