• वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत की सराहनीय पहल …..
  • बर्ड फेस्टिवल करेगा राज्य में पर्यटन के नए आयाम स्थापित 
  • पक्षी विशेषज्ञों व पक्षी प्रेमियों के लिए तीन दिन के प्रवास की हैं  व्यवस्थायें

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

कोटद्वार : वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत के निर्देश पर उत्तराखंड के कोटद्वार के स्नेह वन क्षेत्र में  देश-दुनिया के पक्षी प्रेमियों के अलावा पक्षियों की प्रजातियों पर शोध करने वाले शोधार्थी और लेखक ”बर्ड फ़ैस्टिवल” में जुटेंगे।  इस आशय की जानकारी देते हुए कोटद्वार के डीएफओ वैभव कुमार ने बताया कि यह बर्ड फेस्टिवल राज्य में पर्यटन के नए आयाम स्थापित करेगा और देश -विदेश के पक्षी प्रेमियों को अपनी ओर आकर्षित करेगा।

उनके अनुसार  कोटद्वार क्षेत्र को पर्यटन के नक्शे पर विश्वस्तरीय स्थान दिलाने के लिये (कल)7 से 9 दिसंबर तक चलने वाला बर्ड फ़ैस्टिवल मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने बताया कि वन मंत्री डॉ. रावत के निर्देश पर पहली बार हमारे विभाग द्वारा इस अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के आयोजन में सीधे भूमिका निभायी जा रही है।

उन्होंने बताया कि इस हेतु देश-विदेश से आने वाले पक्षी विशेषज्ञों व पक्षी प्रेमियों हेतु विभाग द्वारा तीन दिन के प्रवास की समस्त व्यवस्थायें की गयी हैं, इस अवधि में वे पक्षी प्रेमी पक्षियों के करीब से दीदार कर सकेंगे। उन्होंने कहा इस आयोजन से कोटद्वार क्षेत्र में पहली बार विभागीय व्यवस्थाओं में हो रहे ”बर्ड फेस्टिवल” से   कोटद्वार क्षेत्र को एक नयी पहचान मिलेगी।

उन्होंने क्षेत्रवासियों व प्रदेशवासियों और देशवासियों से अनुरोध किया कि इस आयोजन के साक्षी बन कोटद्वार क्षेत्र की इस छुपी हुयी नैसर्गिक सुन्दरता से साक्षात्कार करते हुए  देश विदेश से आने वाले ‘डेलीगेट्स’ का स्वागत और  उत्साहवर्धन किया जाय ताकि वे  कोटद्वार से अपनी यादों को ले जाकर अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर  बर्ड फेस्टिवल को पहचान देने में सहायक साबित हो।





See More

 
Top