देहरादून : केंद्र की मोदी सरकार के द्धारा सवर्णों को सरकारी नौकरी और शिक्षा संस्थानों पर 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने का तौहफा गरीब तबका को दिया गया है,वहीं उत्तराखंड कि त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड में इसे जल्द लागू करने की बात कर रही है,लेकिन कांग्रेस इसको लेकर सवाल भी खड़े कर रही है।

आरक्षण लागू करने को लेकर न्यायिक प्रक्रिया पर काम चल रहा है- सीएम

लोकसभा चुनाव को देखते स्वर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देेने पर जहां मोदी सरकार ने मुहर लगा दी है…वहीं उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सरकार जल्द प्रदेश में 10 फीसदी आरक्षण को लागू करने की बात कर रही है. खुद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना कि आरक्षण लागू करने को लेकर न्यायिक प्रक्रिया पर काम चल रहा है लेकिन प्रदेश में इसे लागू ही माना जाए।

कितने परिवार इसके दायरे में आएंगे ये सरकार के पास पुख्ता आंकणा नहीं है- मदन कौशिक

त्रिवेंद्र सरकार मोदी सरकार के द्वारा लागू किए गए 10 फीसदी आरक्षण स्वर्णोें के लिए जल्द लागू करने की बात तो कर रही है लेकिन उत्तराखंड में कितने परिवार इस के दायरे में आएंगे ये अभी सरकार को मालूम नहीं है. खुद शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक का कहना कि कितने परिवार इसके दायरे में आएंगे ये सरकार के पास पुख्ता आंकणा नहीं है लेकिन जो परिवार इसके दायरे में आ रहे है उनमें में उत्साह है खुशी है।

ये फैसला मूर्ख बनाने जैसा है-सूर्यकांत धस्माना 

लोक सभा चुनाव में भाजपा के लिए 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने का बड़ा मुद्दा है लेकिन अभी तक उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सरकार अनुमान तक नहीं लगा पाई कि लगभग कितने परिवार उत्तराखंड में इसके दायरे में आएंगे. इसी को लेकर कांग्रेस भाजपा पर सवाल खड़े कर रही है. स्वर्णं को 10 फीसदी आरक्षण के विधेयक लोकसभा और राज्यसभा में भले ही कांग्रेस ने केंद्र सरकार का साथ दिया लेकिन अब जाकर कांग्रेस इस को लेकर सवाल खड़े कर रही है. कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्मानं का कहना कि ये फैसला मूर्ख बनाने जैसा है. आरक्षण के दायरे में आने के लिए जो मानक केंद्र सरकार ने तय किये उससे कोई गरिब इसके दायिरे में नहीं आ रहा है।

लोक सभा चुनाव में स्वर्णों को 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने को भाजपा मास्टर स्ट्रोक के रूप में लिए हुए फैसले को मान रही है लेकिन भाजपा को फायदा तभी होगा जब भाजपा ये आंकड़ा उत्तराखंड में अपने पास रखे कि कितने लोगों को इसका फायदा मिल रहा है। बाहरहाल कांग्रेस कुछ भी सवाल इस मसले पर उठा ले लोकसभा चुनाव की नतीजों से ये साफ हो जाएगा कि भाजपा के लिए ये मुदा मास्ट्रस्टोक साबित हुआ या नहीं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top