देहरादून : भाजपा नेता अनिल गोयल के ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की जिसमें चौंकाने वाले खुलासे हुए. जी हां बीते दो दिन पहले आयकर विभाग द्वारा देहरादून, विकासनगर, हरिद्वार, रुड़की में छापेमारी की गई थी. जिसमें कई चौंकाने वाले खुलासे हुए. आयकर विभाग की टीम ने अनिल गोयल के ठिकानों से 70 लाख रुपये कैश जब्त किए साथ ही गोयल के आवास से 30 लाख रुपये भी जब्त किए.

13 टीमों ने की छापेमारी

आपको बता दें आयकर विभाग की 13 टीमें जो की यूपी और दिल्ली की हैं बीते दो दिन से लगातार भाजपा नेता अनिल गोयल और कई व्यापरियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है जिसमें अब तक कई बड़े खुलासे हुए. इसी के साथ तीन किलो सोना, सात लॉकर भी आयकर विभाग ने सील किए हैं जिनमें सोना होना बताया जा रहा है। साथ ही आयकर विभाग 300 से ज्यादा जमीनों की रजिस्ट्री देखकर हैरान है। जिनकी जांच की जा रही है.

जमीन के कागज देख आयकर टीम हैरान

मीडिया रिपोर्ट ने अनुसार अनिल गोयल के परिवार के नाम पर जमीनों की खरीद की 300 से ज्यादा रजिस्ट्री के कागज पाए गए हैं। जिसे देख टीम हैरान है. टीम ये जांच करने में जुटी है कि आखिर जमीन के लिए पैसा कहां से आया।

देहरादून में एक यूनिवर्सिटी बनाने की तैयारी में भाजपा नेता

आपको बता दें भाजपा नेता अनिल गोयल की रुड़की में क्वांटम नाम का कॉलेज है साथ ही वो देहरादून में भी एक यूनिवर्सिटी बनाने की तैयारी में है जिसके लिए सहारनपुर रोड पर करीब 40 एकड़ जमीन खरीदी है। आयकर विभाग की टीम जांच में जुटी है.

गोयल परिवार की 40 कंपनियां

गोयल परिवार की 40 कंपनियां सामने आई हैं। इसमें उमंग साड़ी, क्वांटम यूनिवर्सिटी के एमएमडी एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन के अलावा महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड, क्वालिटी मार्ट प्राइवेट लिमिटेड,  एलेक्सिया पैनल्स के नाम प्रमुख हैं। इसके अलावा उनके पार्टनर गर्ग परिवार के भी यमुनानगर में पंजाब प्लाइवुड, पंजाब प्लाई इंडस्ट्री, पंजाब पीनियर्स लिमिटेड के नाम से कंपनियां सामने आई हैं। वहीं आपको बता दें जिन कंपनियों के मालिक भाजपा नेता हैं उनके बच्चे और पत्नियां सभी को कंपनियों में डायरेक्टर बनाया गया है।

वहीं ये भी बात सामने आई है कि भाजपा नेता की बहुओं के खाते में हर महीने 10 लाख रुपये जमा होते हैं जिन्हे आगे इन्वेस्ट किया जाता है.

मोबाइल का डाटा किया फोर्मेट, विभाग की छूटे पसीने

वहीं जैसे ही आयकर विभाग की टीम ने अनिल गोयल के घर और ठिकानों पर छापेमारी की तो देर शाम अनिल गोयल भीकी टीम के सामने आए। लेकिन फोन फोर्मेट कर. वहीं आयकर विभाग अनिल गोयक का मोबाइल का डाटा रिकवर करने में जुटी है. टीम ने आशंका जताई है कि जरुर फोन में कुछ सबूत थे जिसे मिटाया गया है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top