प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के आगरा में 5100 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिल्यान्यास और लोकार्पण किया. मोदी ने कहा कि जिन योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया है, वे ‘सबका साथ सबका विकास’ से जुड़ी भावना का अहम पड़ाव है. ये योजनाएं स्मार्ट सिटी, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़ी है. प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कहा, भाजपा सरकार विकास की ‘पंच धारा’ है. बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई के लिए भाजपा प्रतिबद्ध है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब 59 मिनट के अंदर एक करोड़ तक के ऋण की सैद्धांतिक मंजूरी देने की सुविधा शुरू कर दी गई है. उन्होंने कहा कि अब बड़े उद्योगों में छोटे उद्यमियों का पैसा नहीं फंसे, इसके लिए ऋण पर ब्याज में दो फीसदी की छूट दी गई है. उन्होंने कहा, अगर कमाई की बात करें तो आगरा सहित उत्तर प्रदेश का हर जिला अपने विशेष उद्योग के लिए जाना जाता है. पेठा आगरा की पहचान है. भाजपा सरकार इन छोटे उद्योगों को बढ़ावा दे रही है.

मोदी ने कहा कि मोदीकेयर के तहत गरीब अपना इलाज करवा रहे है. इससे उन गरीबों को बहुत फायदा हुआ जो कई सालों से बीमार थे. व्यापारी और ग्राहक के रिश्तों को मजबूत करने की व्यवस्था जीएसटी है. कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं और बताया जा रहा है कि अन्य करों के बाद जीएसटी एक नया कर हो गया है. ये झूठ है, गलत है. पहले के टैक्सों को खत्म कर दिया गया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में यहां आने वाले पर्यटकों को जब पता चलेगा कि उन्हें गंगा जल पीने का सौभाग्य मिल रहा है तो वे लोग यहां ज्यादा दिन तक रहेंगे. उन्होंने कहा, आगरा देश के उन शहरों में शामिल है जहां स्मार्ट सिटी सेवाएं विकसित हो रही है. यहां निगरानी केंद्र से पूरे शहर की निगरानी होगी. सीसीटीवी कैमरा एक ऐसी सुविधा है जो सुरक्षा की गारंटी लाता है. आगरा में शुरू हो रहीं ये परियोजनाएं पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़ी हैं, यानी आगरा को स्मार्ट सिटी बनाने से जुड़ी है.

इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कई वर्षों से आगरावासियों की मांग थी कि गंगा जल की यहां आपूर्ति हो, वह आज पूरी होने जा रही है. प्रधानमंत्री आज इसे शुरू कर रहे है. उन्होंने सवर्णों को आरक्षण देने की पहल के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद किया.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top