शुक्रवार को भाजपा नेता अनिल गोयल के देहरादून, यमुनानगर, रुड़की और दिल्ली समेत कई अन्य स्थानों पर और उनके प्रतिष्ठानों पर आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की थी. जिसके बाद से फरार चल रहे भाजपा नेता अनिल गोयल का पता लगा लिया गया है और उन्हें देहरादून वापस भेज दिया गया था.

जिसके बाद आईटी विभाग द्वारा पूछताछ की गई. जिसमें भाजपा नेता और कारोबारी अनिल गोयल, उनके भाई सुनील गोयल और बिजनेस पार्टनर नरेश गर्ग से पूछताछ कर रहे हैं. अब तक, नकदी में 70 लाख रुपये और 40 से अधिक कंपनियों और शेयर ट्रेडिंग के विवरण बरामद हुए है.

अनिल गोयल, सुनील गोयल, नरेश गर्ग, शशि गर्ग के हार्डवेयर ट्रेडिंग, प्लाइवुड और एल्युमीनियम पैनल्स का एमएफजी, रेडीमेड कपड़ों, एलएमडी एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन ट्रस्ट (क्वांटम यूनिवर्सिटी, रुड़की), प्लाइवुड का एमएफजी, लकड़ी के उत्पाद आदि 13 प्रतिष्ठानों पर छापेमारी चली थी. टीम उनकी आय व्यय और संपत्ति से जुड़े दस्तावेजों को खंगालने में जुटी है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top