• #Me Too  पीड़िता का पुलिस ने कराया मेडिकल परीक्षण
  • बल्लूपुर स्थित  दुष्कर्म स्थल के फ्लैट का भी पुलिस ने किया निरीक्षण
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : उत्तराखंड भाजपा के पूर्व महामंत्री संगठन संजय कुमार पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती का पुलिस ने सोमवार को दून मेडिकल कॉलेज में चिकित्सकीय परीक्षण कराया। वहीं पुलिस ने साथ ही पुलिस ने पीड़िता के साथ बल्लूपुर स्थित उस फ्लैट का भी निरीक्षण किया जहां पीड़िता को ले जाकर संजय कुमार पर दुष्कर्म करने का आरोप लगा है।
 
नैनीताल हाईकोर्ट से गिरफ्तारी पर मिली फौरी राहत के बाद भाजपा के पूर्व संगठन महामंत्री  संजय कुमार लगातार मुश्किलों में घिरते नजर आ रहे हैं। कोतवाली पुलिस के अनुसार पीड़िता सोमवार को देहरादून पहुंची। यहां उसने मेडिकल परीक्षण कराने के लिए खुद को तैयार बताया, जिसके बाद जांच अधिकारी ज्योति चौहान महिला कांस्टेबिल के साथ युवती को दून मेडिकल कॉलेज लें गई। वहां दोपहर बाद युवती का मेडिकल परीक्षण हुआ। पुलिस के अनुसार मेडिकल रिपोर्ट उन्हें अभी नहीं मिली है।
पीड़िता के अनुसार उसके साथ संजय कुमार ने महिला मोर्चे में पद का लालच देकर 10 मार्च 2018 सहित कई बार दुष्कर्म किया था। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि तब भाजपा नेता संजय कुमार उसे अपने साथ बल्लूपुर स्थित आशीर्वाद एनक्लेव के एक फ्लैट में ले गया और उसने वहां संजय ने युवती के साथ दुष्कर्म किया। उस वक्त डर और लोकलाज के भय से वह चुप रही। सोमवार को पुलिस ने इस फ्लैट का भी निरीक्षण किया।

दुष्कर्म के स्थान की तस्दीक के बाद अब पुलिस बल्लूपुर स्थित आशीर्वाद एनक्लेव के जिस फ्लैट में पीड़िता ने दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगाया है। वहां और उसके आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। हालांकि मामला लगभग दस महीने पूर्व का है और फुटेज मिलना आसान नहीं है, लेकिन पुलिस इसके डाटा रिकवर का भी सहारा ले सकती है।

वहीं जांच के आगे बढ़ने के बाद अब धारा चौकी पुलिस के भी मामले में बयान होंगे क्योंकि सबसे पहले पीड़िता ने धारा चौकी में ही भाजपा के कुछ लोगों पर उसके मोबाइल को छीनने की तहरीर दी थी लेकिन धारा चौकी पुलिस ने मांमले में कुछ भी कार्रवाही नहीं की बल्कि पीड़िता को ही चौकी के चक्कर कटवाये। पीड़िता की ओर से धारा चौकी पुलिस को दी गई तहरीर में यह भी कहा गया था कि जब संजय कुमार की ओर से की जा रही अश्लील बातों की फोन में रिकॉर्डिग कर लोगों को बताया तो बीते अक्टूबर महीने में उसे एक मीटिंग में बुलाया गया। वहां उसका मोबाइल हड़प लिया गया। हालांकि पीड़िता का दावा है कि अभी उसके पास ऐसे आडियो क्लिप हैं, जिससे आरोपों की पुष्टि हो जाएगी। फिलहाल पुलिस इस घटनाक्रम की हकीकत जानने का भी प्रयास करेगी और प्रकरण की जांच करने वाली धारा चौकी पुलिस के भी बयान दर्ज करेगी। बता दें कि पीड़िता ने अक्टूबर में इस मामले में धारा पुलिस चौकी में तहरीर रिसीव कराई थी।

गौरतलब हो कि बीते साल अक्टूबर में एक युवती ने भाजपा के पूर्व महामंत्री संगठन संजय कुमार पर फोन पर अश्लील बात करने और शारीरिक-मानसिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था। भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी पर लगे इन आरोपो से पार्टी में तूफान खड़ा हो गया और आनन-फानन में संजय कुमार को पद से हटा दिया गया। युवती की ओर से इस मामले में एसएसपी निवेदिता कुकरेती को ई-मेल के जरिये लिखित शिकायत भेजी गई थी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top