बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा मैं आकाश (उनके भतीजे) को बसपा के आंदोलन में शामिल होने और उन्हें सीखने का मौका दूंगी. मायावती जन्मदिन के दौरान केक को लेकर मची लूट खसोट पर उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि मेरे जन्मदिन की खुशी के मौके पर केक खाकर खुशी मनाने को टीवी चैनलों में केक की लूट बताया गया.

मायावती बोली बसपा की लोकप्रियता में वृद्धि और सपा के साथ उसके गठबंधन ने उन दलों और नेताओं में अशांति पैदा कर दी है जो दलित और जातिवादी विरोधी हैं. हमें निष्पक्ष और वर्ग से लड़ने के बजाय वे हमारे खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं और कुछ जातिवादी और दलित विरोधी टीवी चैनलों के साथ षड्यंत्र कर रहे हैं.

बसपा प्रमुख मायावती: मैं कांशीराम जी की शिष्या हूं, इसलिए ‘जैसे को तैसा’ का जवाब देने के लिए मैं आकाश (उनके भतीजे) को बसपा आंदोलन में शामिल करूंगी और उन्हें सीख दूंगी. अगर मीडिया के कुछ जातिवादी और दलित-विरोधी तबके के साथ कोई समस्या है तो उसे रहने दें. हमारी पार्टी को कोई परवाह नहीं है. मायावती का मीडिया को संदेश “हम डब्बू (डरपोक) किसम के लोग नहीं हैं, सूर्य कौन करे हैंगड़े, घबरा जा रहे हैं. उस्का मुहतोड़ जौब भी हैं हम नहीं …





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top