जम्मू-दिल्ली दुरंतो एक्सप्रेस में गुरुवार को उस समय कम से कम पांच हमलावर जबर्दस्ती घुस गए, जब सिग्नल में दिक्कत की वजह से ट्रेन रुकी हुई थी. एक यात्री ने यह जानकारी दी. रेलवे ने कहा कि उन्होंने मामले में कुछ जानकारी मिली है.

अपनी शिकायत में जम्मू से दिल्ली की यात्रा कर रहे यात्री ने कहा कि यह घटना तड़के 3.30 बजे हुई और इस घटना के दौरान ट्रेन अटेंडेंट, ट्रेवलिंग टिकट एक्जामिनर (टीटीई) व सुरक्षा कर्मी मौजूद नहीं थे.

यात्री ने अपनी शिकायत में कहा, आज तड़के सुबह 3.30 बजे ट्रेन सिग्नल की समस्या की वजह से कहीं रुकी थी. पांच अज्ञात अपराधी बी3 व बी7 कोच में दाखिल हुए. उन्होंने अपनी छुरी दूसरे यात्रियों की गरदन पर रख दी और उनसे उनका कीमती सामान ले लिया. उन्होंने उनके पर्स, नकदी, बैग, सोने की चेन व दूसरी चीजें ले ली. यह घटना दस से 15 मिनट के भीतर हो गई.

उन्होंने कहा, विडंबना यह है कि इस हादसे के समय न तो कोई कर्मचारी न ही कोई सुरक्षा कर्मी मौजूद था. उत्तरी रेलवे के मुख्य जन संपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) दीपक कुमार ने कहा कि वे कड़ी कार्रवाई करेंगे.

उन्होंने कहा, रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) को मामले में कुछ जानकारी मिली है.. हम जल्द ही अपराधियों को पकड़ने में समर्थ होंगे.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top