• गति फाउंडेशन फेलोशिप में नॉलेज पार्टनर के रूप में करेगा सहयोग
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) ने अर्बन गवर्नेंस में फेलोशिप कार्यक्रम शुरू किया है। यह कार्यक्रम पहली बार शुरू किया जा रहा है। फिलहाल कार्यक्रम देहरादून के विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्रों के लिए शुरू किया जा रहा है। एमडीडीए की योजना भविष्य में इस कार्यक्रम को विस्तार देने की है। देहरादून स्थित थिंक टैंक गति फाउंडेशन फेलोशिप में नॉलेज पार्टनर के रूप में सहयोग करेगा। 
एमडीडीए के उपाध्यक्ष आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पहली बार इस फेलोशिप कार्यक्रम में देहरादून के प्रमुख शिक्षण संस्थानों के 4 छात्रों को शामिल किया जा रहा है। इनमें से दो छात्र वास्तुकला के क्षेत्र से और दो सूचना प्रौद्योगिकी/कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र से होंगे।
डॉ श्रीवास्तव ने बताया कि यह फेलोशिप कार्यक्रम 4 से 6 महीने का होगा और इस दौरान फैलोशिप कर रहे छात्रों को 10 हजार रुपये प्रतिमाह छात्रवृत्ति दी दी जाएगी। फैलोशिप के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 21 जनवरी है। अंतिम प्रस्तुति 31 जनवरी को होगी और 4 फरवरी से फैलोशिप शुरू की जाएगी। इस सम्बंध में अधिक जानकारी प्राधिकरण की वेब साइट www.mddaonline.in  एवं  http://bit.ly/mddaugfp  लिंक पर समस्त जानकारी उपलब्ध है । आवेदन गूगल फार्म के माध्यम से करना होगा जिसका लिंक उपरोक्त लिंक्स ओर उवालब्ध डॉक्यूमेंट में दिया गया है ।
उन्होंने कहा कि वास्तुकला और सूचना तकनीकी/कंप्यूटर विज्ञान में अंतिम वर्ष के छात्र इस फैलोशिप के लिए आवेदन कर सकते है तथा भविष्य में फेलोशिप कार्यक्रम का विस्तार किया जाएगा और इसमें विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के छात्रों को भी सम्मिलित किया जाएगा।
फेलोशिप कार्यक्रम में नॉलेज पार्टनर की भूमिका निभा रहे गति फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष अनूप नौटियाल ने इस कार्यक्रम में सहयोगी की जिम्मेदारी देने के लिए एमडीडीए के उपाध्यक्ष का आभार जताया। उन्होंने एमडीडीए के इस कदम को सकारात्मक और दूरगामी प्रयास बताया और कहा कि इससे फैलोशिप लेने वाले स्टूडेंट्स और एमडीडीए दोनों को लाभ मिलेगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top