डोईवाला- (जावेद हुसैन)- विश्व कुष्ठ रोग दिवस के अवसर पर हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट की ओर से सपेरा बस्ती के निकट निशुल्क संचालित पेन-इंडिया स्कूल में स्वास्थ्य जागरुकता शिविर आयोजित किया गया। इसमें हॉस्पिटल के त्वचा विभाग के चिकित्सकों की टीम ने लोगों को कुष्ठ रोग के लक्षण, बचाव व उपचार की जानकारी दी।

बुधवार को स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय (एसआरएचयू) के एमबीबीएस छात्र-छात्राओं सहित डॉक्टरों की टीम ने भानियावाला सपेरा बस्ती के निकट पेन-इंडिया स्कूल में नौनिहालों व लोगों को कुष्ठ रोग की भ्रांतियों को दूर करते हुए उसके उपचार की जानकार दी। एमबीबीएस के छात्र-छात्राओं ने नाटिका के जरिये स्कूल के नौनिहालो व मौजूद लोगों को कुष्ठ रोग के लक्षण, बचाव व उपचार की जानकारी दी।

चिकित्सा अधीक्षक डॉ.वाईएस बिष्ट ने बताया कि कुष्ठ रोग से कई गलत अवधारणाएं जुड़ी हैं, जिनके चलते बीमारी से ग्रस्त लोगों को सामाजिक कलंक और भेदभाव का सामना करना पड़ता है। त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ.रश्मि जिंदल ने व डॉ.पायल चौहान ने बताया कि कुष्ठ रोग की दवाई एमडीटी सभी स्वास्थ्य केंद्रों व अस्पतालों में निशुल्क उपलब्ध है। एमडीटी कुष्ठ रोग को पूरी तरह ठीक और शरीर में विकृति नहीं आने देती। कुष्ठ छूत की बिमारी नहीं है। इससे पहले पेन-इंडिया फाउंडेशन के संरक्षक डॉ.प्रकाश केशवया, संस्थापक अध्यक्ष अनूप रावत व निदेशक संतोष बुड़ाकोटी सहित स्कूल के बच्चों ने राष्ट्र ध्वज देकर चिकित्सक व एमबीबीएस छात्र-छात्राओं को स्वागत किया।

इस दौरान डॉ.रश्मि जिंदल, डॉ.पायल चौहान, डॉ.नैन्सी भारद्वाज, डॉ.रॉबिन चुग, पालिका सभासद ईश्वर रौथाण, पीआरओ गौरव रावत, वॉलंटियर शिक्षिक ऋतु शर्मा व दीपालिका नेगी आदि मौजूद रहे।

कुष्ठ रोग- कुष्ठ रोग एक संक्रामक बीमारी है जो धीमी गति से विकसित होने वाले बैक्टीरिया माकोबैक्टीरियम लेप्री के कारण होता है। कुष्ठ रोग ट्यूबरकुलॉयड व लैप्रोमैटस दो तरह से होता है।  लैप्रोमैटस अधिक घातक होता है और इसके कारण शरीर की त्वचा में बड़े उभार और गांठें बन जाती हैं।

कुष्ठ रोग के लक्षण-

आंखों या पैर में दर्द, शारीरिक विकृति, कम सनसनी और संयम, त्वचा में घाव

कुष्ठ रोग का उपचार-

यदि त्वचा में कोई सुन्न धब्बा दिखाई देता है तो तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सक से जांच कराएं, यदि कुष्ट रोग पाया जाता है तो एमडीटी का सेवन करें, अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से प्रतिमाह एमडीटी निशुल्क प्राप्त करें, कुष्ठ रोग के पूरी तरह ठीक होने पूर्ण अवधि तक इलाज अवश्य कराएं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top