देहरादून : उत्तराखंड की जनता के लिए एक बार फिर से भारत की सीमा यानी जम्मू कश्मीर से बुरी खबर आई है. जी हां देश की रक्षा करते हुए ड्यूटी के दौरान उत्तराखंड का एक और वीर योद्धा शहीद हो गया. इस खबर से शहीद के घर में कोहराम मच गया है परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है.

मिली जानकारी के अनुसार जम्मू-कश्मीर में ड्यूटी करते वक्त उत्तराखंड का लाल (47 साल) नरेंद्र सिंह देश के लिए शहीद हो गए. शहीद की अंतिम यात्रा में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. सैन्य सम्मान के साथ शहीद को अंतिम विदाई दी। हरिद्वार के श्मशान घाट में शहीद नरेंद्र का अंतिम संस्कार किया गया. आपको बता दें शहीद अपने पीछे अपनी पत्नी औऱ दो बेटों को छोड़ गए.

शहीद नरेंद्र सिंह रानीपोखरी नागेधर के निवासी

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो शहीद नरेंद्र सिंह रानीपोखरी नागेधर के निवासी थे जिनकी उम्र 47 साल थी औऱ वो जम्मू-कश्मीर के पुंछ में तैनात थे। मंगलवार को ड्यूटी के वक्त उन्हें हार्ट अटैक आया था, जिससे शहीद नरेंद्र की हालत खराब हो गई. इसके तुरंत बाद सिपाही नरेंद्र सिंह को साथियों ने अस्पताल में भर्ती कराया जहां उन्होंने दम तोड़ दिया. नरेंद्र सिंह की मौत की खबर जैसे ही उनके घर पहुंची तो वहां कोहराम मच गया। परिजन रो-रोकर बेसुध हो गए।

हरिद्वार के श्मशान घाट में उनका अंतिम संस्कार

बुधवार को शहीद का शव सेना के वाहन में रानीपोखरी नागाधेर लाया गया। शहीद के सम्मान में सेना के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर की सलामी दी। हरिद्वार के श्मशान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर व्यापार मंडल के अध्यक्ष और क्षेत्र पंचायत सदस्य समेत क्षेत्र के गणमान्य लोग शहीद को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top