देहरादून : उत्तराखंड में स्वाइन फ्लू कहर बरपा रहा है. लगातार एक के बाद एक मरीजों की मौत हो रही है. इसमें स्वास्थय विभाग की लापरवाही या इलाज में कमी या प्रोपर इलाज न मिलने के कारण हो रही मौत कह सकते हैं. स्वाइन फ्लू से उत्तराखंड में तीन और मरीजों की मौत हो गई है।जिससे स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या 6 हो गई है.

अधिकांश मरीजों की मौत श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में

गौर करने वाली बात ये है कि अधिकांश मरीजों की मौत श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में हुई है। जानकारी के अनुसार, नेहरू कॉलोनी निवासी 71 वर्षीय महिला को कैलाश अस्पताल से बीती पांच जनवरी को श्री महंत इंदिरेश अस्पताल के लिए रेफर किया गया था। 13 जनवरी को तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया। उपचार के दौरान सोमवार देर शाम उनकी मौत हो गई है।

महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती एक और मरीज

गौर हो किो बीती नौ जनवरी को सहारनपुर निवासी 49 साल के एक व्यक्ति को भी महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें आईसीयू में रखा गया था। उपचार के दौरान उनकी भी 13 जनवरी को मौत हो गई। इसके अलावा बीती छह जनवरी को रुद्रप्रयाग निवासी 48 साल के एक व्यक्ति को भी श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां पर उपचार के दौरान 13 जनवरी को उनकी मौत हो गई है।

महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती एक महिला की हालात नाजुक

सोमवार को आई तीनों मरीजों की जांच रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि हुई है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एसके गुप्ता ने बताया कि अभी भी श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में स्वाइन फ्लू से पीड़ित दो, मैक्स व सिनर्जी में एक-एक मरीज का उपचार चल रहा है। श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती एक महिला की हालात नाजुक बनी हुई है। बताया कि सभी अस्पतालों को एहतियात बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं। साथ ही लोगों को सावधानी बरतने की अपील भी की गई है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top