ओडिशा शिक्षक पात्रता परीक्षा (ओटीईटी) को बुधवार को सोशल मीडिया पर इसके प्रश्नपत्र लीक होने के बाद रद्द कर दिया गया और जांच के आदेश दिए गए. जब प्रश्न पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, उस समय पहली पाली की परीक्षा हो रही थी.

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (बीएसई) की अध्यक्ष जहांआरा बेगम ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. प्रश्नपत्र लीक होने के बाद हमें दोनों पालियों की परीक्षाओं को रद्द करने के लिए मजबूर होना पड़ा. हमने घटना के संबंध में जांच के आदेश दिए हैं. दोबारा परीक्षा के लिए तिथि की घोषणा जल्द की जाएगी.”

ओटीईटी प्रश्न पत्र सोशल मीडिया पर तब वायरल हुआ, जब पूर्वाह्न् 10 बजे से अपराह्न् 12.30 बजे के बीच पहली पाली की परीक्षा चल रही थी.

परीक्षा के लिए दो पालियों की व्यवस्था की गई थी. दूसरी पाली की परीक्षा अपराह्न् 2 बजे से 4.30 बजे के बीच होनी थी.

करीब 1.12 लाख अभ्यर्थी राज्यभर में 250 परीक्षा केंद्रों पर ओटीईटी की परीक्षा में शामिल होने वाले थे. बोर्ड के निर्णय पर अभ्यर्थियों ने गुस्सा जाहिर किया है.

एक अभ्यर्थी ने कहा, “हमने परीक्षा के लिए कई महीने से तैयारी की थी. लेकिन, सब व्यर्थ चला गया. सरकार को सोशल मीडिया पर प्रश्नपत्र को डालने वाले दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.”





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top