• राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने किया ध्वजारोहण
  • उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी हुए सम्मानित 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । 70वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर समूचा उत्तराखंड राज्य देशभक्ति के रंग में गोते लगाता दिखाई दिया। राज्य के मैदानी इलाके से लेकर दूरस्थ पर्वतीय इलाके के स्कूली बच्चों ने प्रभात फेरियां निकाली वहीँ सभी जिला मुख्यालयों पर ध्वजारोहण किया गया। अस्थायी राजधानी सहित कई जनपदों में जहाँ आकर्षक झांकियां भी निकाली गई वहीं ध्वजारोहण किया गया। चारों ओर ‘भारत माता’ की जय के नारे गूंज उठे। अस्थायी राजधानी के परेड ग्राउंड में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने ध्वजा रोहण किया। इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सम्मानित किया।

इस अवसर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले पुलिस कार्मिकों और मुख्यमंत्री उत्कृष्ट एवं सुशासन पुरस्कार से आला नौकरशाहों समेत 25 कार्मिकों को सम्मानित किया गया। वहीं, हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में योग गुरु रामदेव और अचार्य बालकृष्ण ने ध्वजारोहण किया। इसके साथ ही सभी जिलों में प्रभारी मंत्रियों और जिलाधिकारियों ने जिला मुख्यालयों में ध्वजारोहण किया। 

पूरे देश के साथ ही उत्तराखंज में भी 70वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया। चारों ओर देशभक्ति के गीत गूंज रहे हैं। स्कूलों में बच्चों ने प्रभात फेरियां निकालकर देशभक्ति की शानदार प्रस्तुतियां दी। इसके साथ ही आकर्षक झांकियां भी निकाली गर्इं। सड़कों पर निकली बच्चों की प्रभात फेरियां जोश और जज्बे से भरी हुर्इं नजर आर्इ। चारों ओर भारत मां की जय के नारे गूंज उठे।

देहरादून के परेड मैदान में आयोजित समारोह में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने राष्ट्रीय ध्वजारोहण के गणतंत्र दिवस पर परेड मैदान में आयोजित समारोह में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य के साथ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्य सचिव अनिल रतूड़ी समेत तमाम आलाअधिकारी मौजूद रहे। ध्वजारोहण के बाद जवानों समेत एनसीसी टुकड़ियों ने मार्चपास्ट करते हुए राज्यपाल को सलामी दी। विभिन्न महकमों ने कार्यक्रमों, योजनाओं और नीतियों पर आधारित झांकियों का भी प्रदर्शन किया। 

  • पुलिस व अग्निशमन कार्मिक हुए सम्मानित

गणतंत्र दिवस के अवसर पर राज्यपाल ने अग्निशमन एवं आपात सेवा, राज्य में नियुक्त सेवानिवृत्त अग्निशमन अधिकारियों माणिक लाल शर्मा व हरीश गिरी को सराहनीय सेवा अग्निशमन सेवा पदक प्रदान किए गए। उत्कृष्ट सेवा के लिए पुलिस उपाधीक्षक वीरेंद्र सिंह रावत, उपाधीक्षक प्रकाशचंद्र देवली, धन सिंह तोमर, महेश चंद्र, निरीक्षक रमेश कुमार पाल, प्लाटून कमांडर राजेंद्र सिंह नेगी को राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक से नवाजा गया।

  • विशिष्ट कार्य के लिए पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल, अपर पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह, निरीक्षक एसडीआरएफ संजय उप्रेती, उपनिरीक्षक सतीश शर्मा, मनोज सिंह रावत, लीडिंग फायरमैन रवि चौहान, रोशन कोठारी, आरक्षी वीरेंद्र प्रसाद काला, सूर्यकांत उनियाल, मनोज जोशी, विजेंद्र कुडिय़ाल, फायरमैन प्रवीण सिंह, योगेश रावत, आरक्षी सुशील कुमार व दिगंबर सिंह को राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक प्रदान किया गया। 
  • सुशासन पुरस्कार से 25 सम्मानित 

मुख्यमंत्री उत्कृष्टता व सुशासन पुरस्कार-2018 से प्रमुख सचिव उद्योग मनीषा पंवार, निदेशक उद्योग सुधीरचंद्र नौटियाल, उप महाप्रबंधक उद्योग अनुपम द्विवेदी, महाप्रबंधक सिडकुल झरना कमठान, उपनिदेशक उद्योग शैली डबराल, सहायक महाप्रबंधक राखी को सामूहिक श्रेणी में इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन के लिए नवाजा गया। आयुष सचिव आरके सुधांशु, निदेशक आयुष प्रो अरुण कुमार त्रिपाठी, आटीडीए निदेशक अमित सिन्हा, जिलाधिकारी देहरादून एसएस मुरुगेशन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती को सामूहिक श्रेणी में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन के लिए उक्त पुरस्कार दिया गया।

कोसी रूपांतरण कार्य श्रेणी में तत्कालीन जिलाधिकारी अल्मोड़ा ईवा आशीष व केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य के लिए तत्कालीन उप जिलाधिकारी गोपाल सिंह चौहान को भी ये पुरस्कार प्रदान किए गए। व्यक्तिगत श्रेणी में एमडीडीए उपाध्यक्ष डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी चतर सिंह चौहान, वन संरक्षक पीके पात्रो, अधिशासी अभियंता नमिता रमोला, खंड विकास अधिकारी मनविंदर कौर, डॉ भोला झा, एसडीआरएफ निरीक्षक विकास पुंडीर, वरिष्ठ तकनीकी निदेशक अरविंद दधिचि, अरुण शर्मा, कांस्टेबल नागरिक पुलिस मनोज बेनीवाल, केयर टेकर महिला कल्याण विभाग दुष्यत कुमार सिंह व सफाई कर्मचारी ऊषा देवी को सम्मानित किया गया। 

  • राजभवन में राज्यपाल ने किया ध्वजारोहण 

इससे पहले राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने सुबह राजभवन में ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी। उन्होंने देश की आजादी के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले नायकों व संविधान निर्माताओं के प्रति सम्मान व आभार व्यक्त करते हुए भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी।  

  • गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में ध्वजारोहण
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 70 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में ध्वजारोहण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उपस्थित अधिकारियों, कार्मिकों व पुलिस के जवानों को राष्ट्रीय एकता एवं आपसी सद्भाव की शपथ दिलायी। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को गणतन्त्र दिवस की शुभकामनाएं दी तथा संविधान निर्माताओं एवं स्वतन्त्रता संग्राम सैनानियों को श्रद्धांजली अर्पित की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 127 इन्फेंट्री बटालियन, गढ़वाल राइफल के कर्नल वेद व्रत वैध्य को प्रशस्ति पत्र देकर व मुख्यमंत्री सुरक्षा टीम में तैनात उप निरीक्षक श्री प्रकाश चन्द्र शर्मा को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक के लिए चयनित होने पर पुष्प गुच्छ भेंट किया। 
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने गणतत्र दिवस के अवसर पर पर भारत के संविधान निर्माण के उन विधि वेताओं का भावपूर्ण स्मरण किया जिन्होंने गणतंत्रात्मक व्यवस्था बनाई। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान विश्व के श्रेष्ठ संविधानों में गिना जाता है। भारत का संविधान लचीला है और देशकाल और परिस्थिति के अनुसार संविधान में संसोधन हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस भावना से भारत का संविधान बनाया गया है, उसका अनुसरण करते हुए हमें समावेशी विचार के आधार पर देश और समाज को आगे बढ़ाना होगा। भारत को आजादी जिन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के बलिदान के कारण मिली है, उन्हें देश कभी नहीं भुला पाएगा। 
मुख्यमंत्री ने पर्वतारोही बछेन्द्री पाल को पद्म भूषण, जागर सम्राट श्री प्रीतम भरतवाण व फोटोग्राफर अनूप साह को पद्मश्री के लिए चयनित होने पर बधाई दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड की तीन प्रतिभाओं को एक ही वर्ष में पद्म पुरस्कार के लिए चुना जाना राज्य के लिए गौरव की बात है। उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी को भारत रत्न के लिए चयनित होने पर बधाई देते हुए कहा कि वे एक कुशल राजनीतिज्ञ के साथ उत्कृष्ट शासक भी रहे हैं। श्री नानाजी देशमुख व श्री भूपेन हजारिका को  मरणोपरान्त भारत रत्न के लिए चयनित होने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि भूपेन हजारिका जी ने फिल्म जगत में विशिष्ट उपलब्धि हांसिल की गीत, संगीत, गायन, फिल्म निर्देशक हर तरह की भूमिका उन्होंने निभाई। नानाजी देशमुख जी ने ग्रामीण स्वावलंबन, शिक्षा व शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने के साथ ही वे दीनदयाल शोध संस्थान से आजीवन जुड़े रहे।
इसके उपरान्त मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय भट्ट ने बलवीर रोड स्थित भाजपा कार्यालय में ध्वजारोहण किया। 
सके बाद मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत परेड ग्राउण्ड मे आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम मे शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में शामिल हुए वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों से भेंट कर उनकी कुशल क्षेम जानी तथा शाॅल भेंट कर उन्हें सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने सूचना विभाग द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।
  • राजभवन में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन
राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने राजभवन में रेडक्राॅस सोसाइटी द्वारा आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया। रक्तदान शिविर में राजभवन के कार्मिकों तथा सुरक्षा कर्मियों द्वारा रक्तदान किया गया।राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने रक्तदान शिविर की सराहना करते हुए कार्मिकों का उत्साहवर्द्धन किया। उन्होंने कहा कि हमारे रक्त की एक बूंद भी किसी का जीवन बचाने में सक्षम है। गणतंत्र दिवस के पावन दिन रक्तदान से बढ़कर कोई शुभ कार्य नहीं हो सकता। इस अवसर पर सचिव राज्यपाल श्री आर.के.सुधांशु भी उपस्थित थे। 
  • विधानसभा में स्पीकर ने किया झंडारोहण 

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने विधानसभा में झंडारोहण किया। गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि यह राष्ट्र के प्रति सम्मान और संप्रभुता का उत्सव मनाने का अवसर है। उन्होंने राज्य आंदोलन के शहीदों को भी श्रद्धांजलि अर्पित की। 

  • मैराथन विजेता किये गये पुरस्कृत 

मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने सचिवालय परिसर में ध्वजारोहण किया। उन्होंने कहा कि भारत के संविधान को दुनिया में प्रबुद्ध और गौरवशाली माना जाता है। यह हमारे बलिदानी पूर्वजों के निस्वार्थ त्याग से हासिल हुआ है। इस अवसर पर राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की छात्राओं ने देशभक्ति गान प्रस्तुत किया। मुख्य सचिव ने पुलिस महकमे की ओर से आयोजित वर्ष 2016, 2017 व 2018 में आयोजित रन फॉर अंगेस्ट ड्रग्स अंतरराष्ट्रीय मैराथन के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। इस मौके पर सभी अपर मुख्य सचिव, सचिव, अपर सचिव व सचिवालय के कार्मिक मौजूद थे। 

  • पुलिस मुख्यालय में DGP ने किया ध्वजारोहण 

गणतंत्र दिवस पर पुलिस मुख्यालय में पुलिस महानिदेश अनिल के रतूड़ी ने ध्वजारोहण किया। इसके बाद उन्होंने पुलिस कर्मियों को उत्कृष्ट सेवा सम्मान चिह्न, सराहनीय सेवा सम्मान चिह्न प्रदान कर बधाई दी।

इस अवसर पर अशोक कुमार, महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, वी. विनय कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, अभिसूचना/सुरक्षा/प्रशासन,  दीपम सेठ, पुलिस महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक, पी/एम,  अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक संचार, जीएस मार्तोलिया, पुलिस महानिरीक्षक, मुख्यालय, पूरन सिंह रावत, पुलिस महानिरीक्षक अपराध अनुसंधान उत्तराखंड, पुष्पक ज्योति, पुलिस महानिरीक्षक/महासमादेष्टा होमगार्ड समेत समस्त अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top