देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : भारी जन दबाव को देखते हुए जीएमवीएन ने 24 घंटे के अंदर ही अपने निर्णय को वापस ले लिया है। इस आदेश के बाद अब औली की ढलान में वर्ष 2010 में तैयार अन्तरराष्ट्रीय स्तर के फिस स्कीईंग स्लोप में चहलकदमी करने पर अब किसी को टैक्स नहीं देना होगा।

गौरतलब हो कि 9 जनवरी की देर सांय गढ़वाल मंडल विकास निगम ने एक आदेश जारी कर अन्तरराष्ट्रीय स्कीईंग स्लोप औली में जाने वाले वयस्क पर्यटक से 500 ,अवयस्क से 200, स्थानीय वयस्क से 200, अवयस्क से 100 रुपये लेने का फरमान जारी किया था।  जीएमवीएन के इस निर्णय के खिलाफ शुक्रवार को औली में स्थानीय लोगों एवं स्कीयर्स में खासा अक्रोश देखा गया। लोगों ने औली में जुलूस प्रदर्शन किया व विरोध स्वरूप सुबह ग्यारह बजे से डेढ़ बजे तक चियर लिफ्ट को नहीं चलने दिया। 

लोगों का आरोप था कि जीएमवीएन के इस निर्णय से पर्यटक हतोत्साहित होंगे व स्थानीय लोगों का रोजगार प्रभावित होगा। विरोध कर रहे लोगों से जीएमटी जीएमवीएन बीएल राणा ने मुलाकात कर लोगों को आश्वस्त किया कि जीएमवीएन का उद्देश्य बेहतरीन स्लोप को आम आवाजाही से रोकते हुए इसे क्षतिग्रस्त होने से बचाना है। पर्यटकों की चहलकदमी के कारण स्लोप खराब हो रहा है। स्लोप जो स्कीयर्स के लिए है, में बर्फ जल्दी पिघल रही है।  स्थानीय निवासी जयदीप नेगी, विवेक पंवार, शैलेश पंवार, कुलदीप, नवीन, अखिलेश आदि ने कहा कि आठ वर्ष बीतने के बाद भी जीएमवीएन इस तैयार स्लोप को संवार नहीं पाया है। बर्फ पड़ने के बाद पता नहीं चलता है कि मुख्य स्लोप कहां है और बुग्याली ढलान कहां है, जिस कारण से पर्यटक मुख्य स्लोप तक पहुंच जाते हैं। 

स्लोप में लगेंगे साइन बोर्ड, होगी फैनसिंग:  निर्णय लिया गया कि जल्द ही जीएमवीएन स्कींइग स्लोप के सभी एन्ट्री प्वांईट में फैनसिंग करेगा ताकि लोग इसमें न जाएं। साथ ही आवश्यक दिशानिर्देश के बोर्ड भी लगाये जायेंगे। निर्णय हुआ कि मुख्य स्लोप की फैनसिंग पूरी होने के बाद बाहर से पैदल आवाजाही के लिए कोई मनाही नहीं होगी। साथ ही स्थानीय लोग स्कीईंग स्लोप के अतिरिक्त अन्य सभी ढलानों में फन स्कीईंग एवं पर्यटन व्यवसाय चला सकेंगे। 

कांग्रेस ने जलाया पुतला: औली स्कीईंग स्लोप में चहलकदमी पर लगे टैक्स के विरोध में कांग्रेस कमेटी ने नगराध्यक्ष रोहित परमार की अध्यक्षता में मुख्य चैराहे पर सरकार एवं जीएमवीएन का पुतला जलाया। पुतला जलाने वालो में प्रमुख प्रकाश रावत, हरीश भंडारी, रोहित परमार, महेन्द्र फरकिया, रजनीश पंवार, विक्रम भुजवांण, ठाकुर राणा, कमल रतूडी, दिगंबर बिष्ट आदि शामिल रहे। 

नगर पालिका अध्यक्ष शैलेन्द्र पंवार ने जीएमटी बीएल राणा से मुलाकात कर क्षेत्र के लोगों की भावनाओं से उन्हें अवगत कराया। कहा कि जीएमवीएन जन विरोधी निर्णय न ले। औली जोशीमठ एवं सलूड़ के लोगों के हक हकूक का क्षेत्र है। जीएमवीएन को चाहिए कि वह स्थानीय बेरोजगार युवाओं को स्थाई रोजगार दे न कि उनका मौसमी रोजगार छीने। 

वहीं  महाप्रबंधक जीएमवीएन,बीएल राणाने कहा  औली में जीएमवीएन के स्कीइंग स्लोप पर आने वालों से ही शुल्क लिया जा रहा था। इसे अब जन दबाव के कारण स्थगित कर दिया गया है। स्लोप में आवाजाही से होने वाली गंदगी से स्लोप को नुकसान न पहुंचे, इसके लिए स्लोप क्षेत्र की तारबाड़ की जाएगी। तारबाड़ होने के बाद स्लोप वाले क्षेत्र में आने वालों से शुल्क वसूला जाएगा।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top