रुड़की : रुड़की के भगवानपुर में जहां एक तरफ जिले के मुखिया खनन माफियाओं पर समय-समय पर कार्रवाई कर शिकंजा कसने में कोताही नहीं बरते हैं. वहीं दूसरी ओर खनन माफिया क्षेत्रीय प्रशासन की मिलीभगत से ग्राम समाज की जमीनों को को ख़ुदर्बुर्द करने में लगे हैं. सैकड़ों ग्रामीणों के विरोध के बावजूद भी खनन माफियाओं ने पिछले कई महीनों से जेसीबी के द्वारा ग्राम समाज की उपजाऊ भूमि को नदी में तब्दील कर दिया.

खनन के मामले को लेकर चल चुकी हैं गोलियां 

2 दिन पूर्व भी इस खनन के मामले को लेकर गोलियां चल चुकी है. ग्रामीणों का आरोप था कि खनन का विरोध करने पर माफियाओं हमारे ऊपर गोली चलाई थी गनीमत रही थी वह किसी को नहीं लगी जिसकी तहरीर ग्रामीणों ने थाना बुग्गावाला में भी दी थी इतना सब कुछ होने के बावजूद भी खनन नहीं रुका.

खनन माफियाओं के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन

आज फिर बुधवार शहीद ग्राम पंचायत के मजरा गोकुलवाला गांव के कई दर्जन ग्राम वासियों ने इकट्ठे होकर खनन वाली जगह पहुंचकर खनन माफियाओं के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया और मुर्दाबाद के नारे लगाए. इस संबंध में भगवानपुर तहसील के एसडीएम दीपेंद्र सिंह से जानकारी चाही तो उन्होंने साफ तौर पर कहा हमारी जांच में खनन नहीं पाया गया है जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी रोष है.

प्रशासन की मिलीभगत से हो रहा खनन

ग्रामीणों का कहना है कि हम सब अपनी आंखों के सामने दिखा रहे हैं यहां खनन हो रहा है और हम कई बार इसको रोक भी चुके हैं लेकिन क्षेत्रीय प्रशासन हमारी नहीं सुन रहा है जिससे साफ होता है कि प्रशासन की भी इसकी मिलीभगत है. उनका कहना है कि इसकी शिकायत डीएम सहित उच्च अधिकारियों से करेंगे. तस्वीरें भी अपने आप में साफ बयां कर रही हैं कि खनन माफियाओं ने उपजाऊ जमीन को खनन करके खुर्दबुर्द किया हुआ है.

ग्रामीणों का कहना है कि माफियाओं ने ग्राम समाज की जगह को 15 से 20 फिट गहराई तक खोदा हुआ है और यह खनन का कार्य पिछले कई महीनों से बदस्तूर चला आ रहा है. जिसको मीडिया भी समय-समय पर दिखाता रहता है लेकिन ऐसा क्या कारण है जो इन पर कार्रवाई नहीं हो पाती यह अपने आप में बड़ा सवाल है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top