प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को कहा कि उसने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले को लेकर जारी जांच के संबंध में फरार हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उसकी सहयोगी कंपनियों की 147 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है. एजेंसी ने एक बयान में कहा है कि यह कार्रवाई धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) 2002 की धाराओं के तहत की गई है.

बयान में कहा गया है, “ईडी ने मुंबई और सूरत में स्थित चल और अचल संपत्तियों को अस्थायी रूप से जब्त किया है, जिसमें आठ कारें, संयंत्र और मशीनरी, आभूषण, पेटिग और अचल संपत्तियां शामिल हैं और जिनका बाजार मूल्य 147,22 करोड़ रुपये है, जो नीरव मोदी और उसके समूह की सहयोगी कंपनियों के स्वामित्व वाली हैं. इनके नाम फायरस्टार डायमंड इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड, फायरस्टार इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड, राधेशायर जूलरी कंपनी प्राइवेट लिमिटेड और रिदम हाउस प्राइवेट लिमिटेड हैं.”

ईडी ने इससे पहले भारत और विदेशों में 1,725.36 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की थी.

संपत्तियों के अलावा, ईडी ने 489.75 करोड़ रुपये का सोना, हीरा, बुलियन, आभूषण और अन्य कीमती सामान भी जब्त किए थे.

नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और ईडी जांच के घेरे में हैं. ईडी ने सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर 15 फरवरी को उनके और अन्य के खिलाफ धन शोधन के मामले दर्ज किए थे.

ईडी अब तक चोकसी और नीरव मोदी की 4,765 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर चुकी है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top