पुलवामा हमले के बाद पूरे देशभर के लोगों में रोष औऱ गुस्सा है जो कि हमेशा रहेगा…हमारे देश ने 40(पुलवामा हमला) और 5(मेजर चित्रेश बिष्ट, मेजर वीएस ढौंडियाल औऱ 4 अन्य जवान) जवानों को खोया है…देश भर के लोग दुश्मन देश के प्रति रोष जता रहे हैं जो की कभी कम नहीं हो सकता…लोगों ने अपने-अपने जरिए रोष व्यक्त किया..

कई ट्रेडर्स और किसानों ने माल भेजना किया बंद कर

किसी ने जूते सस्ते में बेचकर तो किसी ने सड़क पर पाक का झंडा रख कर उसके ऊपर से गाड़ी चलाकर…वहीं इंडिया के लोगों के रोष का असर व्यापारिक तौर पर भी देखने को मिला. जी हां दोनों देशों में सड़क मार्ग से होने वाली कई जरूरी वस्तुओं की सप्लाई में कमी आई है। कई ट्रेडर्स और किसानों ने माल भेजना बंद कर दिया है। पाकिस्तान निर्यात किए जाने वाले सामान पर भारत ने बेसिक कस्टम ड्यूटी को 200 फीसदी तक बढ़ा दिया गया। भारतीय किसानों ने अपने उत्पाद पाकिस्तान भेजने से इनकार कर दिया। मध्य प्रदेश के किसानों ने पाकिस्तान को टमाटर भेजने से साफ इनकार किया है।

टमाटर भले सड़ जाए लेकिन हम उसे पाकिस्तान नहीं भेजेंगे।

उनका कहना है कि हमारे टमाटर भले सड़ जाए लेकिन हम उसे पाकिस्तान नहीं भेजेंगे। इसका असर यह है कि पाकिस्तान में टमाटर के दाम आसमान छूने लगे हैं। इस बात की जानकारी साउथ एशिया की एक पत्रकार ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर दी है।

180 रुपए किलो पहुंचे टमाटर के दाम

पाकिस्‍तान में टमाटर के रेट ने आसमान छू लिया है जी हां पाकिस्तान के लाहौर में टमाटर 180 रुपए प्रति किलो बिक रहा है। जबकि भारत में टमाटर 10 रुपए किलो मिल रहा है। पाकिस्तान को सबसे ज्यादा फल-सब्जियां सप्लाई करने वाली आजादपुर मंडी में व्यापारियों ने वहां माल नहीं भेजने का फैसला किया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अटारी-बाघा मार्ग से यहां से रोजाना 75 से 100 ट्रक टमाटर जा रहा था, लेकिन इस घटना के बाद ट्रेडर्स ने इसे रोक दिया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top