• बूथ पालक, बूथ अध्यक्ष और बीएलए-2 एजेंट पार्टी के कार्यकर्ता त्रिशक्ति

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा का चुनावी रण त्रिशक्ति के सहारे जीतना चाहती है। लेकिन क्या है यह त्रिशक्ति जिस पर बीजेपी को इतना भरोसा है कि वह इस पर दाव खेल रही है। यह त्रिशक्ति है बीजेपी के संगठन की शक्ति।

बीजेपी में त्रिशक्ति पार्टी के बूथ पालक, बूथ अध्यक्ष और बीएलए-2 एजेंट को कहते हैं। इनका काम होता है हर बूथ को मैनेज करना, वोटर लिस्ट बनाना, बीजेपी वोटरों को बूथ तक लाना और पार्टी के पक्ष में वोट करवाना। इसके अलावा इनका काम फर्जी वोटों पर ध्यान रखना भी है।

बूथ पालक, बूथ अध्यक्ष और बीएलए-2 एजेंट पार्टी के कार्यकर्ता त्रिशक्ति में आते हैं यानि इन्हें बूथ लेवल पर काम करना होता है, और यही वजह है कि भाजपा ने बूथ लेवल पर बहुत ही बारीकी से काम किया है। इस समय प्रदेश में 11,234 बूथ है और प्रत्येक बूथ पर भाजपा के 3-3 कार्यकर्ता सक्रिय हैं यानि प्रदेश में बीजेपी के पास 33 हजार के करीब बूथ लेवल के कार्यकर्ता मौजूद हैं।

इतनी बड़ी टीम अगर बूथ लेवल पर सक्रिय हो तो कोई भी चुनाव जीतना आसन हो जाता है और शायद यही वजह है कि प्रदेश भाजपा में उत्तराखंड की पांचों लोकसभा सीटों पर त्रिशक्ति सम्मलेन आयोजित किया जा रहा है। इसीलिए खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह हरिद्वार, टिहरी लोकसभा के त्रिशक्ति के कार्यकर्ताओं को संबोधित करने आ रहे हैं। इसके साथ ही बाकी सीटों पर भी त्रिशक्ति सम्मलेन आयोजित किया जा रहा है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top