जम्मू-कश्मीर से एक दिल दहलाने वाला वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में 25 साल की कश्मीरी लड़की इशरत मुनीर अपनी जान की भीख मांग रही है. आतंकियों ने ही इस वीडियो को सोशल साइट पर जारी किया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

अज्ञात आतंकवादियों ने इशरत मुनीर को कम से कम आठ गोलियां मारी. हालांकि, जान लेने से पहले आतंकियों ने उसे यह बात भी स्वीकार करने पर मजबूर किया कि ‘वह पुलिस की इन्फॉर्मर है और उसकी वजह से साउथ कश्मीर में कई आतंकियों का एन्काउंटर हुआ है.’

दक्षिणी कश्मीर के शोपियां से पुलिस ने गोलियों से छलनी लड़की का शव बरामद कर लिया है. इशरत के भाई शौकत अहमद ने यह मानने से इनकार कर दिया कि उनकी बहन पैसे के लिए इन्फॉर्मर के रूप में काम किया. लड़की आर्थिक रूप से बेहतर परिवार से ताल्लुक रखती थी.

शौकत ने कहा कि इशरत सोशियोलॉजी में पीजी कर रही थी. प्राइवेट इंस्टीट्यूट में वह कंप्यूटर क्लास करने भी जाती थी. पुलिस ने कहा कि गुरुवार को भी वह शेयर टैक्सी से कंप्यूटर क्लास करने जा रही थी, तभी कुछ लड़कों ने उसकी गाड़ी रोक दी और किडनैप कर लिया. पुलिसकर्मी पिता की बेटी इशरत पुलवामा की रहने वाली थी. आतंकियों ने लड़की की जान लेने से पहले करीब 10 सेकंड का वीडियो बना लिया. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जल्द ही आतंकियों के पकड़े जाने की उम्मीद है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top