देहरादून :  हरिद्वार जिले के पांच गांवों में जहरीली शराब पीकर मरने वालों की संख्या 34 पहुंच गई है। तो वहीं 48 से ज्यादा लोग अब भी अस्पतालों में भर्ती हैं। इनमें 33 की हालत गंभीर बताई जा रही है।जिससे कई गांवों में कोहराम मचा हुआ है.

दूसरी ओर शानिवार को राज्य की त्रिवेंद्र सरकार ने मृतक आश्रितों को दो-दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये आर्थिक सहायता देने को एलान किया है.

झबरेड़ा थाना क्षेत्र के बाल्लुपुर, जहाजगढ़, भलस्वागाज, बिंड और खरक गांव में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जो की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 34 हो गई है. और कइयों की हालत गंभीर बनी हुई है. मिली जानकारी के अनुसार इन सभी ने बाल्लुपुर और बिंड गांव से कच्ची शराब खरीदी थी। इन दोनों ही गांवों में लंबे समय से कच्ची शराब का धंधा चल रहा था। पुलिस, प्रशासन और आबकारी विभाग ने कोई सुध नहीं ली और अनहोनी होने के बाद छापेमारी की जा रही है.

वहीं घटना के बाद लोगों में गुस्सा है पुलिस प्रशासन और आबकारी विभाग पर…क्योंकि गांवों में लगातार कच्ची शराब का धंधा चालू था लेकिन किसी ने सुध नहीं ली लेकिन अनहोनी के बाद पुलिस प्रशासन और विभाग जागा और जगह-जगह छापेमारी की जा रही है.वहीं इसी के साथ लोगों का गुस्सा भी सातवे आसमान पर की अभी तक इसकी सुध क्यों नहीं ली गई.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top