रुड़की में जहरीली शराब के मामले में पुलिस की ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है। अभी तक यूपी और रुड़की पुलिस ने 9 आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद अब चार उन लोगों की गिरफ्तारी की है जिन्होंने शराब के एक कारोबारी को ज़हरीला कैमिकल बेचा था. पुलिस ने इनके पास से खतरनाक कैमिकल आईपीए के छह ड्रम  भी बरामद किए हैं। अर्जुन को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

पुलिस के मुताबिक चारों आरोपियों ने खतरनाक कैमिकल एक ऐसे व्यक्ति को दिया जिसके पास ना तो कोई लाइसेंस था और ना ही कोई जीएसटी नंबर था। जबकि नए व्यक्ति को आईपीए जैसा कैमिकल उपलब्ध कराना एक  बड़ा अपराध है। पुलिस ने पकड़े गए चारों आरोपियों पर हत्या, षड्यंत्र और आबकारी अधिनियम की धाराओं समेत कुछ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी सचिन गुप्ता भली भांति जानता था कि अर्जुन शराब का कारोबार करता है इसीलिए 12 हज़ार के हिसाब से चार ड्रम अर्जुन को बेचे थे।पुलिस ने फिलहाल कैमिकल बनाने वाले गोडाउन को सील कर दिया है ।हालांकि पुलिस आई सी इन्टरप्राइसेज प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजर सचिन गुप्ता को नारकोटिक्स एक्ट में पहले भी जेल भेज चुकी है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top