पुलवामा में फिदायीन हमला होने के बाद भारत सरकार चाहती है मोस्ट वांटेड आतंकी मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद उसे वैश्विक आतंकी घोषित करे. हालांकि चीन इस राह में अभी भी रोड़ा बना हुआ है. शुक्रवार को चीन ने पुलवामा में हुई आतंकी हमले की निंदा तो की लेकिन वह एक बार फिर मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने संबंधी प्रस्ताव पर मुकर गया.

मसूद अजहर भारत का मोस्ट वांटेड आतंकी है. उस पर पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले का आरोप है. आइए हम आपको उन आतंकियों के बारे में बताते हैं जो पाकिस्तान में रहते हैं और भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी एनआईए को उनकी तलाश है.

मसूद अजहर

एनआईए के अनुसार इस पर पंजाब के पठानकोट में भारतीय वायु सेना के बेस पर कर्मियों और बुनियादी ढांचे को निशाना बनाने के लिए आतंकवादी हमला कराने में मसूद का हाथ है. यह जैश-ए-मोहम्मद आतंकी समूह से जुड़ा हुआ है. इसी आतंकी समूह ने गुरुवार को पुलवामा में सीआरपीएफ  जवानों पर हुये फिदायीन हमले की जिम्मेदारी ली है.

मुफ्ती अब्दुल रऊफ असगर

मुफ्ती अब्दुल रऊफ असगर भी एनआईए की मोस्टवांटेड लिस्ट में है. इसने हाल ही में भारत के कई हिस्सों को दहलाने का ऐलान किया था. उसने कहा था कि एक बार फिर कश्मीर सॉलिडटरी डे मनाएंगे तो दिल्ली दहल चुकी होगी.

शाहिद लतीफ

सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार शाहिद लतीफ ने ही पठानकोट के हमलावरों की मदद की थी. साल 2010 में यूपीए सरकार ने इसे जेल से रिहा किया था.

जावेद

जावेद के लिए इंटरपोल ने भी रेड नोटिस जारी किया हुआ है. सुरक्षा एजेंसी के अनुसार कराची में रहने वाला जावेद पर साल 2015 में बीजेपी नेताओं की हत्या का आरोप है.

कासिफ जन

एनआईए की लिस्ट में कासिफ जन का भी नाम है.  इस पर भी पठानकोट एयरबेस पर हमला करने का आरोप है.

सैय्यद सलाहुद्दीन

सैय्यद सलाहुद्दीन को अमेरिका ने अंतरराष्‍ट्रीय आतंकी घोषित किया है. सैय्यद सलाहुद्दीन एक कश्मीरी है, जो पाकिस्तान से मिली मदद के आधार पर भारत में आतंकी गतिविधियों को संचालित करता है. सलाहुद्दीन कश्मीर समेत पूरे भारत में आतंकी गतिविधियों को संचालित करता है और वह एनआईए के मोस्ट वांटेड लिस्ट में भी शामिल है.

मोहम्मद नावीद जट्ट

एनआईए की सूची में मोहम्मद जावेद का भी नाम है. इस पर RPC की धारा 302, 307, 224, 120B तके तहत मामला दर्ज किया गया है. एजेंसी के अनुसार श्रीनगर स्थित SMHS अस्पताल में आतंकी हमला करने का आरोप है जिसमें 2 पुलिस अधिकारी मारे गये थे. आतंकी नावीद भाग निकला था.

वली

एनआईए के अनुसार वली एलईटी   से जुड़ा आतंकी है. इस पर केरल स्थित कन्नूर जिले में मामला दर्ज किया गया है. इस पर IPC की धारा 120(B), 121, 121(A), 122, 123, 124(A), 212, 465, 471, 34 of और UA (P) Act की धारा के तहत 13(2), 16, 18, 19, 38, 39 & 40 मामला दर्ज किया गया है.

साभार न्यूज 18





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top