गुरुवार से यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं शुरू हो गई है. पिछले साल की तरह इस बार भी स्‍पेशल टास्‍क फोर्स (एसटीएफ) को एग्‍जामिनेशन सेंटर्स पर कॉपी माफियाओं पर नजर रखने और उन्‍हें यहां से दूर करने की जिम्‍मेदारी दी गई है. बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल में 3195603 एवं इंटरमीडिएट में 2611319 कुल 5806922 परीक्षार्थी 8354 केंद्रों पर परीक्षा में शामिल होंगे.

गोरखपुर में अयोध्या दास राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में यूपी बोर्ड की परीक्षाएं सीसीटीवी और वॉयस रिकॉर्डर सर्विलांस के तहत कराई जा रही है. वॉयस रिकॉर्डिंग और सीसीटीवी फुटेज पर लगातार नजर रखी जाएगी.’

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीते दिनों जिलों के अधिकारियों के साथ बैठक कर साफ कर दिया था कि यदि नकल हुई तो जिलाधिकारी, केंद्र व्यवस्थापक और डीआईओएस जिम्मेदार होंगे. केन्द्र व्यवस्थापक को जेल भेजा जाएगा. हालांकि मुख्य विषयों की परीक्षा 12 फरवरी से शुरू होगी. हाईस्कूल की परीक्षाएं 28 फरवरी और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 2 मार्च को खत्म होंगी.

यूपी बोर्ड सचिव ने बताया कि एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम अपनाए जाने के बाद इंटरमीडिएट में 39 विषयों में एकल प्रश्नपत्र की परीक्षा हो रही है. उन्होंने बताया कि हाईस्कूल परीक्षा 14 कार्य दिवस एवं इंटरमीडिएट की परीक्षा 16 कार्य दिवस में पूरी होगी.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top