• वाहनों की हड़ताल के बाद भी हज़ारों ने पहुँचकर कराया इलाज 
  • निःशुल्क पीठ एवं कमर दर्द जांच शिविर में हजारों की संख्या में लोग
  • 551 मरीजों का पैथोलॉजी टेस्ट और 465 मरीजों का हुआ रेडियोलॉजी टेस्ट
  • शिविर में पहुंचे सतपुली, पाटीसैण, गुमखाल, पौड़ी और कांसखेत घंडीयाल के लोग 
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : उत्तराखण्ड में हर जरूरतमंद और गंभीर से गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों के लिए वरदान साबित हो रहे द हंस जरनल अस्पताल सतपुली  में समाजसेवी माताश्री मंगलाजी एवं भोलेजी महाराज जी की प्रेरणा से वाहनों की हड़ताल के बाद भी निःशुल्क पीठ एवं कमर दर्द जांच शिविर में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे। जिसमें पीठ एवं कमर दर्द की बीमारी से परेशान लोगों की नि:शुल्क कमर और पीठ से संबंधित शिकायतों की जांच कर उन्हें दवाई और भविष्य में यह बीमारी बढ़े ना इसके लिए सलाह दी गई। 
द हंस जरनल अस्पताल सतपुली के डाक्टर एच. एस. मिनास ने इस बारे में बताया कि द हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल सतपुली में पीठ एवं कमर रोग संबंधित लोगों के लिए महा शिविर का आयोजन किया गया था। जिसमें लगभग आठ सो लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया। जिसमें से 551 मरीजों का पैथोलॉजी टेस्ट और 465 मरीजों का रेडियोलॉजी टेस्ट किया गया। 
साथ ही द हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल सतपुली एवं स्पाइन फाउंडेशन के सौजन्य से डाक्टर नीरज गुप्ता, डाक्टर अंकुर नंदा इंडियन स्पाइनल सेंटर नई दिल्ली, डाक्टर अंकुर गुप्ता स्पाइन क्लिनिक कानपुर और डाक्टर मनोज त्यागी द हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल सतपुली की देखरेख में इस शिविर में पीठ एवं कमर दर्द के मरीजों को व्यायाम, उठना-बैठना और खान-पान के जरिए कमर एवं पीठ का ध्यान रखने की सलाह दी गई। साथ ही कमर एवं पीठ दर्द संबंधित सारी जांचे की गयी। 
डाक्टर मिनास ने बताया कि माताश्री मंगलाजी एवं भोलेजी महाराज जी के आशीष से आयोजित इस शिविर में सतपुली, पाटी सैण, गुमखाल, पौड़ी और कांसखेत घंडीयाल के दूर दराज के गांवों से इलाज के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। जिनको बेहतर से बेहतर सेवाएं दी गई है। इन मरीजों में जिन मरीजों को कमर एवं पीठ दर्द की गंभीरत शिकायतें है। उनके लिए मार्च के प्रथम सप्ताह में विश्व प्रसिद्ध स्पाइन सर्जन डॉ. शेखर भोजराज द हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल सतपुली में स्पाइन फाउंडेशन के तकनीकी सहयोग से पीठ एवं कमर दर्द शल्य चिकित्सा निःशुल्क इलाज किया जाएगा। ताकि इन मरीजों को हमेशा के लिए इस दर्द से छुटकारा दिलाया जा सके। 
इस शिविर में दूर दराज के गांवों से पहुंचे लोगों ने माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज का कोटी-कोटी आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हम सौभाग्यशाली है कि जिस बीमारी के इलाज के लिए हम अपना घर परिवार  छोड़कर कहीं दूर अस्पतालों में हजारों रूपये खर्च कर इलाज के लिए धक्के खाते थे। आज वह सारे इलाज माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी के आशीर्वाद से हमें द हंस फाउंडेशन जरनल अस्पताल सतपुली में निःशुल्क मिल रहे हैं। इसके लिए हम यहां के डाक्टरों की टीम का भी आभार प्रकट करते हैं। 




0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top