रामनगर : रुडकी में अवैध शराब के सेवन से अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। जिसके बाद रामनगर में भी आबकारी विभाग हरकत में आया है। यहां विभाग ने ताबड़तोड़ छापेमारी की है। जिसमें अवैध शराब बना रही 10 भट्टियों को नष्ट किया गया। इस दौरान यहां 30 हजार किलोग्राम लाहन नष्ट किया गया। इन अवैध भट्टियों में 300 लीटर कच्ची शराब भी बरामद की गई। जिसे आबकारी टीम ने मौके पर ही नष्ट कर दिया। विभाग ने यह छापे थारी और तुमडिया में मारे थे।

काश ये ताबड़ तोड़ छापेमारी पहले की होती तो आज हरिद्वार जिले के कई गांवों के घर नहीं उजड़ते, कई बच्चे बिन पिता के नहीं होते, कई औरतें विधवा नहीं होती और किसी ने अपना बेटा न खोया होता.

खबर है कि जिन गांवों में जहरीली शराब पीने से व्यक्तियों की मौत हुई है इनमे से एक गांव के लोगों ने काफी समय पहले कच्ची शराब के काले कारोबार के बारे में पुलिस को शिकायत की थी लेकिन कोई कार्रवाही नहीं हुई औऱ जब कई घर उजड़ गए, कइयों की जिंदगियां छिन गई तो अब प्रशासन जागा है. सवाल आबकारी और पुलिस प्रशासन दोनों पर खड़े हो रहे हैं जिसका जवाब शायद वो न दे पाएं.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top