प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा कि राज्य को दिए गए पाई-पाई का हिसाब मांगने की वजह से चंद्रबाबू नायडू की रातों की नींद उड़ गई है. राज्य भर में विरोध प्रदर्शन के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा, चौकीदार ने उनकी (नायडू) नींद हराम कर दी है, क्योंकि हम आंध्र प्रदेश के विकास के लिए दिए गए पाई-पाई का हिसाब मांग रहे है. मोदी ने आरोप लगाया कि चंद्रबाबू नायडू ने राज्य के विकास को नजरअंदाज किया है और वह ‘महा मिलावट’ के साथ गाली देने की प्रतिस्पर्धा में शामिल हो गए है.

उन्होंने कहा कि विपक्षी गठबंधन में गरीब व देश के साथ धोखाधड़ी के आरोपों का सामना कर रहे लोग शामिल है. प्रधानमंत्री ने कहा, वह शब्दकोश में मौजूद हर अपशब्द का इस्तेमाल मेरे खिलाफ कर रहे है. वह आंध्र की महान संस्कृति का अपमान कर रहे है. प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि महीनों से गाली सुनने के बाद वह पहली बार जवाब दे रहे है.

मोदी ने कहा कि नायडू ने आंध्र प्रदेश में बुनियादी ढांचे के विकास का वादा किया था, लेकिन वह मुकर गए. मोदी ने कहा, वह आंध्र को एक ‘सन राइज’ राज्य बनाना चाहते थे, लेकिन अपने बेटे को आगे बढ़ाने के लिए वह ‘सन’ राइज में व्यस्त है. उन्होंने गरीबों के लिए नई योजनाओं का वादा किया, लेकिन मोदी की योजनाओं पर अपना स्टिकर लगा दिया.

तेदेपा के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार से बीते साल अलग होने के बाद मोदी का यह आंध्र प्रदेश का पहला दौरा है. तेदेपा, राज्य को विशेष दर्जा देने के वादे को पूरा नहीं करने का प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए राजग से अलग हो गई थी. मोदी से सीनियर होने के नायडू के दावे पर प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बारे में कोई विवाद नहीं है और इसी वजह से उन्होंने नायडू को हमेशा पूरा सम्मान दिया.

मोदी ने कहा, आप दल बदलने, नई पार्टियों के साथ गठबंधन में शामिल होने में सीनियर है. आप अपने ससुर के पीठ में छुरा भोंकने में सीनियर हैं और आंध्र प्रदेश के सपनों को बर्बाद करने में आप सीनियर है. मोदी ने नायडू के कांग्रेस के आगे घुटने टेकने पर आश्चर्य जताया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश के नेताओं का अपमान किया, जिसकी वजह से एन.टी. रामाराव को तेदेपा का गठन करना पड़ा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि नायडू ने अपनी पार्टी के सिद्धांतों को भुला दिया, क्योंकि वह सच्चाई का सामना नहीं करना चाहते है. उन्होंने कहा कि नायडू ने लगातार चुनाव कभी नहीं जीता और वह आगामी चुनाव में बुरी तरह हारने को लेकर डरे हुए है. मोदी ने आरोप लगाया कि अमरावती से पोलावरम तक नायडू ने सभी प्रयास अपने लिए पैसे बनाने के लिए किए.

उन्होंने कहा, इसी वजह से वह चौकीदार से डरे हुए है. मेरी सरकार ने करदाताओं के पाई-पाई का हिसाब मांगा है. उन्होंने अतीत में कभी इसका हिसाब दिल्ली को नहीं दिया है. दिल्ली में सोमवार को प्रस्तावित तेदेपा नेताओं के विरोध प्रदर्शन पर मोदी ने कहा कि नायडू दिल्ली ‘फोटो सेशन’ के लिए और जनता का पैसा खर्च कर पार्टी का बिगुल बजाने जा रहे है. उन्होंने कहा, आंध्र प्रदेश के लोगों को अपने पैसे का हिसाब मांगना चाहिए.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top