देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । उत्तराखंड में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हरिद्वार जिले के पांच गांवों में जहरीली शराब पीने से लोगों के मरने पर सूबे में विभिन्‍न स्थानों में भाजपा सरकार का पुतला फूंककर विरोध दर्ज करने का प्रयास किया।

रविवार को टिहरी में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने कोटी कालोनी में त्रिवेंद्र सरकार और योगी सरकार का पुतला दहन किया। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गुस्‍सा जताते हुए पुतला दहन किया। कांग्रसियों ने कहा कि सरकार को प्रत्येक मौत पर उनके परिजनों को पांच पांच लाख रुपये की सहायता की जाए और हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। इस दौरान कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष शान्ति प्रसाद भट्ट, कनिस्ट प्रमुख कुलदीप पंवार, युवक कांग्रेस के विधान सभा क्षेत्र अध्यक्ष नवीन सेमवाल, नरेंद्र रावत, प्रधान, मनोज रावत, आदि शामिल थे।

  • भाजपा प्रदेश में सरकार चलाने में नाकामः बेहड़

पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ ने कहा कि विगत दिनों जहरीली शराब पीने से उत्तराखण्ड के दर्जनों लोगो की मृत्यु हो गई। इस हादसे पर शोक जताते हुये प्रशासन से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार आये दिन जीरो टॅालरेन्स की बात कहती है लेकिन भाजपा प्रदेश में सरकार चलाने में विफल रही है।

प्रदेश में भ्रष्टाचार के साथ ही अवैध कार्य लगातार फल- फूल रहे हैं, चाहे कच्ची शराब का या फिर अवैध खनन। इन सभी अवैध कार्यों को रोकने में प्रदेश सरकार नाकारा साबित हुई है। पूरे उत्तराखण्ड में शराब माफियां हावी हैं और खुलेआम अवैध शराब का कारोबार कर रहे है। जिसका जीता जागता उदहारण रूड़की में कच्ची शराब से शिकार हुये लोगो का मामला है। श्री बेहड़ ने कहा कि जनपद में कभी भी रूड़की जैसा हादसा हो सकता है और पुलिस शराब माफियाओं के आगे नतमस्तक हो चुकी है। 

वहीं, ऋषिकेश में नगर कांग्रेस कमेटी ऋषिकेश द्वारा हरिद्वार जिले के पांच गांवों में जहरीली शराब पीने से लोगों के मरने पर प्रदेश की भाजपा सरकार का पुतला फूंका। इस मौके पर अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने कहा कि उत्तराखंड प्रदेश सरकार जो अपने को जीरो टोलरेंस की सरकार कहती है, भ्रष्टाचार में डूबी है। इसका जीता जागता उदाहरण हरिद्वार जिले कि यह घटना है। शासन प्रशासन अवैध शराब बिकवाने का काम कर रहे है। कार्यकारी अध्यक्ष शिवमोहन मिश्र ने कहा कि प्रदेश में कानून का डर अपराधियों को नहीं है। भ्रष्ट तंत्र हावी है। माफिया उत्तराखंड से लेकर उत्तर प्रदेश तक अवैध शराब का कारोबार सरकार की शह पर कर रहे है। जनता इस भाजपा सरकार को समझ चुकी है और लोकसभा चुनाव में भाजपा को जबाब देगी।

इस दौरान प्रदेश महासचिव जयपाल सिंह जाटव, एआइसीसी सदस्य जयेंद्र रमोला, पूर्व अध्यक्ष मदन मोहन शर्मा, प्रदेश सचिव विमला रावत, चंदन सिंह पंवार, मुमताज हाशिम, महिला अध्यक्ष मधु जोशी, उमा देवी, वेद प्रकाश धींगडा, पार्षद राकेश सिंह, पार्षद जगत सिंह नेगी, पार्षद शकुंतला शर्मा, पार्षद भगवान सिंह पंवार, जिला उपाध्यक्ष वीरेंद्र सजवाण, जिला महासचिव नंद किशोर जाटव, तुषार बैनर्जी, अभिषेक शर्मा, शुभम सारस्वत, शैलेंद्र रस्तोगी, जयपाल सिंह, अमित पाल, गौरव यादव, संजय भारद्वाज, तनवीर सिंह, सुधीर राय आदि उपस्थित थे।

  • प्रदेश में बंद की जाय जहरीली शराब 

रामनगर में पूर्व विधायक रंजीत रावत के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार का पुतला दहन करते हुए जहरीली शराब बंद किए जाने की मांग की। इस दौरान आबकारी मंत्री के त्यागपत्र देने की मांग की गई। आरोप लगाया कि सरकार के इशारे पर अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करने से सरकार बच रही है। इस दौरान रणजीत रावत, निशांत पपने, आशा बिष्ट, विनय पडलिया, शेर सिंह लटवाल, अनिल अग्रवाल समेत कई लोग मौजूद रहे।

  • आबकारी मंत्री से  बागेश्वर से माँगा इस्तीफा 

बागेश्वर में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर जिला कांग्रेस ने प्रदेश सरकार का पुतला जलाया। उन्होंने देहरादून और हरिद्वार में जहरीली शराब पीने से हुई लोगों की मौत पर आबकारी मंत्री से इस्तीफा मांगा है। चेतावनी दी है कि यदि शराब का गोरखधंधा तत्काल बंद नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। कांग्रेसी एसबीआइ तिराहे पर एकत्र हुए। उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वक्ताओं ने कहा कि उत्तराखंड में जहरीली शराबी पीने से लगतार लोग मारे जा रहे हैं। ऐसी भ्रष्ट सरकार को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए। जिस तरह जहरीली शराब पीने से अपने परिवार त बाह हो गए हैं, यह घटना काफी दुखद है। नगर कांग्रेस कमेटी इसका खुलकर विरोध करती है। उन्होंने मारे गए परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की।

वक्ताओं ने कहा कि घटना के जिम्मेदार लोगों के प्रति कड़ी से कड़ी सजा अमल में लाई जाए। प्रदेश सरकार पूरी तरह फेल हो गई है। शराब माफियाओं पर किसी भी प्रकार का शिकंजा नहीं कसा जा रहा है। शराब की नई दुकानें धड़ल्ले से खोली जा रही हैं। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐठानी, नगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष धीरज कोरंगा, भगत रावल, गीता रावल, महेश पंत, अंकुर उपाध्याय, बाली राम, हरीश साह, राजा पांडे, रिजवान खान, पंकज जोशी, विशाल रावत, गोविंद कठायत, कुलदीप मेहता, इंदिरा जोशी, पुष्पा आर्य, भीम कुमार, गोकुल परिहार, पंकज लोहनी, रमेश दानू, संजय रावल आदि मौजूद थे।

  • कांग्रेसियों ने  शराब काण्ड को लेकर सरकार का पुतला फूंका

महानगर कांग्रेस कमेटी रुद्रपुर द्वारा प्रदेश में जहरीली शराब पीने से हुई दर्जनों लोगों की मौत से रोषित होकर नशे के खिलाफ बाटा चौक पर जोरदार प्रदर्शन कर प्रदेश सरकार के पुतले को आग के हवाले किया। पूर्व काबीना मंत्री तिलकराज बेहड़ व महानगर अध्यक्ष जगदीश तनेजा ने कहा कि राज्य में अवैध शराब का कारोबार राज्य सरकार के संरक्षण में फल फूल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की आंखें तब खुलती हैं जब जहरीली शराब से बड़ी घटना हो जाती है और कई गरीबों का घर उजड़ जाता है।

उन्होंने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए राज्य सरकार से मृतक के आश्रितों को उचित मुआवजा देने व दोषी अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। इस दौरान विजय अरोरा, राजीव कामरा, नत्थूलाल, जयपाल, अमनदीप सिंह, ममता नारंग, वासुदेव कोली, राहुल सागर, बाबू खान, शाहिद रजा, महबूब अंसारी, खगोपति विश्वास, विजय मंडल, नंदलाल प्रसाद, तौफीक, रंजीत, अजीत, संजीव रस्तोगी, सचिन मुंजाल, अबरार अहमद, विशाल अनेजा, दिनेश पंत, इंद्रजीत सिंह, विरमा कोली, शकील आदि मौजूद थे।

उत्तराखंड के रुड़की एवं उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में जहरीली शराब के सेवन से दर्जनों लोगों की मौत से आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गदरपुर के सरदार नगर तिराहे पर उत्तराखंड एवं उत्तर प्रदेश सरकार का पुतला फूंककर रोष जताया। कांग्रेस नगरध्यक्ष विजय सुखीजा एवं ब्लॉक अध्यक्ष नासिर हुसैन के संयुत्तफ नेतृत्व में तमाम कार्यकर्ता सरदार नगर तिराहे पर एकत्र हुए, जहां उन्होंने उत्तराखंड के रुड़की और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के विभिन्न क्षेत्रें में जहरीली शराब के सेवन से हुई मौतों के लिए उत्तराखंड एवं उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए जोरदार नारेबाजी के बीच उत्तराखंड एवं उत्तर प्रदेश सरकार का पुतला फूंक कर रोष जताया। आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजा दिए जाने की मांग की। किसान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुभाष बेहड़ ने कहा कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश सरकार की उदासीनता के चलते शराब माफिया बेखौफ होकर लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं और बिना किसी रोक-टोक के बिक रही कच्ची शराब का सेवन करके लोग अपनी जान गवा रहे हैं।

इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता धर्म चंद खेड़ा, कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव प्रीत ग्रोवर, मनोज गुम्बर, संजीव झाम, बृजेश कुमार बिल्लन, शब्बू खान, वाइस चैयरमेन मोहम्मद असलम, जकी उल्ला खान, आले नवी, रामविलास शाह, आबिद हुसैन, शोएब शानू, इरफान प्रधान, फिरोज अहमद, तनवीर अहमद, तीरथ राज सीकरी, गुलाम नवी, बलविंदर सिंह, मोहन सिंह, मोहम्मद अली भोला, शाकिर अली, शाहनूर अली, शानू सलमानी, फिरोज अहमद, जमीर हुसैन, इमरान अली, अजय छाबड़ा, शमीम अहमद, मुहम्मद उमर, बाबू खां, कल्लन ठेकेदार एवं बंटी गोगी आदि तमाम कार्यकर्ता मौजूद थे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top