देहरादून : किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी किसान सम्मान निधि योजना का देवभूमि उत्तराखण्ड मे भी शुभारंभ हो गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कार्यक्रम में शिरकत की इस दौरान उन्होंने द्वीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। वहीं इस दौरान कई किसानों के खाते में योजना द्वारा 2000 रुपये ट्रांसफर भी किए गए.

दो ग्राम सभाओं के किसानों के खाते किसान सम्मान निधि के तहत 2000 रुपये पहुंचे

बात करें उत्तराखंड के किसानों की तो उधमसिंह नगर के गदरपुर की दो ग्राम सभाओं के किसानों के खाते किसान सम्मान निधि के तहत 2000 रुपये पहुंचे जिससे किसानों में खुशी का माहौल है.

प्रदेश के एक लाख 50 हज़ार 139 किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा-सीएम

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने मोदी सरकार की विभिन्न योजनाओं की जमकर सराहना की। साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों का कर्ज माफ करना समस्या का समाधान नहीं है। किसानों की आर्थिकी को मजबूत करने में सरकार लगी है और यही इसका स्थाई समाधान है. साथ ही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से प्रदेश के एक लाख 50 हज़ार 139 किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा।योजना में हर साल किसानों को 6 हज़ार रुपये किसानों के खाते में दिए जाएंगे। वही आज कुछ किसानों को 2 हज़ार रुपए खाते में आ गए है।

आपको बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना को लॉन्च करेंगे। 75 हजार करोड़ रुपये की इस योजना के पहले चरण में 1 करोड़ किसानों के खाते में 2-2 हजार रुपये ट्रांसफर किए गए। जो की ऐतिहासिक है.

आपको बता दें केंद्र के कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अगले 2-3 दिनों में अन्य 1 करोड़ किसानों को पैसा भेजा जाएगा। 2019-20 के अंतरिम बजट में केंद्र सरकार ने पीएम-किसान योजना की घोषणा की थी, जिसके तहत 12 करोड़ छोटे और मझोले किसानों को हर साल 6 हजार रुपये दिए जाने का वादा किया गया है। यह राशि 2 हेक्टेयर तक कृषि योग्य जमीन वाले किसानों को तीन किश्तों में भेजी जाएगी।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top