जापान इन दिनों एक विचित्र समस्या से जूझ रहा है. यहां बुजुर्ग फ्री में रहने-खाने के लिए जेल जा रहे हैं. इसके पीछे की वजह जेल में मिलने वाली आजादी और मुफ्त मेडिकल सुविधाएं हैं. परिवार से बेरुखी झेलने वाले बुजुर्ग बार-बार अपराध करके जेल में दस्तक दे रहे हैं. जापान में पिछले 20 साल में 65 साल से अधिक उम्र के लोगों के जेल जाने की संख्या तीन गुना हो चुकी है. आरामदायक जीवन के लिए बुजुर्ग बार-बार अपराध कर रहे हैं.

1997 में हर 20 अपराधियों में से एक 65 साल से ऊपर का होता था मगर अब हर पांच अपराधियों में एक बुजुर्ग शामिल है. जापान की आबादी 12.68 करोड़ है जिनमें 65 साल से ऊपर के लोगों की आबादी साढ़े तीन करोड़ के लगभग है.

दो साल पहले दोषी करार दिए गए बुजुर्गों की संख्या 2500 थी. कई बुजुर्ग जो ठीक से चल नहीं पाते वह मुफ्त के खाने के लिए जेल जा रहे हैं. जापान की जेल में सुरक्षाकर्मी बुजुर्ग कैदियों की देखभाल करते हैं.

वह बुजुर्ग कैदियों के डाइपर बदलने, नहलाने के साथ ही उन्हें टहलाने भी ले जाते हैं. स्वास्थ्य और टीवी जैसी कई सुविधाएं मौजूद रहने के कारण कई बुजुर्गों को घर से ज्यादा अब जेल का वातावरण अच्छा लगने लगा है. जापान में हर पांचवा अपराधी बुजुर्ग है.

साभार-हरिभूमि 





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top