प्रयागराज कुंभ में किन्नर अखाड़ा की प्रमुख महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा है राम मंदिर का निर्माण किन्नर अखाड़ा करेगा. अन्य संगठन मंदिर को लेकर सिर्फ राजनीति कर रहे हैं. क्योंकि जब जब चुनाव आते है तब तब मंदिर निर्माण का मुद्दा गरमाया जाता है. सत्ता पाने के बाद इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है. किन्नर अखाड़े की महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा कि भगवान राम हमारे आराध्य हैं. शिवरात्रि के बाद किन्नर अखाड़ा अयोध्या कूच करेगा.

किन्नर अखाड़े में पत्रकारों से बातचीत में लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा कि अगर मंदिर का निर्माण करना है तो सभी को संगठित होना होगा. अलग-अलग धर्म संसद करने का कोई मतलब नहीं है. विहिप की धर्म संसद में मंदिर को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया जा सका. ऐसी धर्म संसद का क्या मतलब है. यह सनातन धर्म की रक्षा की बात है. सबको एकसाथ आगे आना होगा.

राष्ट्रपति और पीएम को भेजूंगी पत्र
अखाड़ा प्रमुख ने बताया कि सुप्रीमकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र भेजूंगी कि इस मामले में जल्द से जल्द कोई निर्णय लिया जाए. इसके अलावा देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को भी पत्र लिखा जाएगा. विहिप की धर्म संसद में निमंत्रण दिए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि निमंत्रण नहीं मिला था. लेकिन भगवान राम की बात होती तो हम बिना बुलाए भी जाते. परिषद की धर्म संसद एक राजनीतिक मीटिंग थी.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top