केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार आतंकवाद को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी और सुरक्षा बलों को आतंकी समूहों से निपटने की खुली छूट दे दी गई है. केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने संसद में सर्वदलीय बैठक के बाद पत्रकारों से कहा, “राजनाथ सिंह ने सर्वदलीय बैठक में कहा कि जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले से पूरा देश सदमे में है और लोगों के बीच आक्रोश है.”

तोमर ने कहा, “राजनाथ सिंह ने आश्वस्त किया कि सुरक्षाबलों का मनोबल ऊंचा है और हम जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे को लेकर प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने कहा कि सरकार ने आतंकवादी समूहों और जो इन्हें पनाह देते हैं, उनसे निपटने के लिए सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है.”

उन्होंने कहा, “सिंह ने कहा कि सरकार की आतंकवाद को बिल्कुल बर्दाश्त न करने की नीति है और यह आतंकी हमला आतंकियों की हताशा को दर्शाता है.”

राजनाथ ने राज्यसभा और लोकसभा के नेताओं की सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. मंत्री ने कहा कि बैठक में सभी नेताओं ने चर्चा की और आश्वासन दिया कि ‘पूरा विपक्ष सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है.’

राजनाथ ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर के जो लोग प्यार और शांति चाहते हैं, वे आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई में हमारे साथ खड़े हैं.

तोमर ने गृहमंत्री के हवाले से कहा, “लेकिन राज्य में कुछ लोग हैं, जो सीमापार से आतंकी समूहों को मदद करते हैं और वे राज्य के युवाओं के दुश्मन हैं. वे वहां शांति नहीं चाहते हैं.”

उन्होंने कहा, “देश आतंकवाद के विरुद्ध लड़ रहा है और हम इसे निष्कर्ष तक पहुंचाएंगे. हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और हम आतंकवाद का खात्मा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.”

तोमर ने कहा, “गृहमंत्री ने कहा कि संगठित रूप से हम राज्य में आतंकवाद का खात्मा करने और शांति लाने में सफल होंगे.”

मंत्री ने यह भी कहा कि बैठक में एक प्रस्ताव पारित किया गया.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top