भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव माहौल बना हुआ है. इसी बीच रक्षा मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि हमारा मानना है कि पाकिस्तान की हवाई घुसपैठ सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमला था. हमारा मानना है कि पाकिस्तान आर्मी के द्वारा भारतीय वायुसेना के पायलट के साथ गलत व्यवहार जिनेवा कन्वेंशन का उल्लंघन है.

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बुधवार को पुंछ और राजौरी में 3 पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के घुसने पर बुधवार को भारत ने भी जवाबी कार्रवाई की थी. वायुसेना ने घुसपैठ का जवाब देने के लिए 2 मिग-21 और 3 सुखोई-30 भेजे थे.

मिग के पायलट्स ने एक पाकिस्तानी एफ-16 मार गिराया था. इस दौरान हमारा एक मिग क्रैश हो गया और पायलट विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान में बंदी बना लिए गए.

बयान के मुताबिक, हम मानते हैं कि पाकिस्तानी सेना सक्रिय रुप से जैश-ए-मोहम्मद का समर्थन कर रही है और उनको सुविधाएं दे रही हैं.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top