• बलूनी के अलावा केवल त्रिवेंद्र सिंह रावत को थी प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की जानकारी 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : भारतीय जनता पार्टी की रुद्रपुर रैली खराब मौसम की भेंट चढ़ गई प्रदेशभर से आए सैकड़ों कार्यकर्ताओं को मायूस होकर लौटना पड़ा। मौसम के कारण और सुरक्षा एजेंसियों की सलाह पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रुद्रपुर रैली मैं नहीं पहुंच पाए। जहां सुबह भी उनको जौली ग्रांट हवाई अड्डे पर मौसम के कारण लंबा इंतजार करना पड़ा। क्षमा मांगते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने फोन से ही जनता को संबोधित किया।

दूसरी ओर एक दूसरे सरकारी कार्यक्रम में जो कि कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के भीतर रखा गया था उसमें भी प्रधानमंत्री मौसम के कारण देर से पहुंचे हालांकि यह कार्यक्रम सरकारी होने के बावजूद इसकी तैयारियां बहुत गोपनीय रखी गई थी

प्रशासन के द्वारा तैयारियों में कहीं चूक न रहे इसलिए गोपनीय ढंग से हर तैयारी को अंजाम दिया गया. इस सबका जिम्मा राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी देख रहे थे बलूनी वन पर्यावरण के बारे में अच्छी जानकारी रखते हैं ,पूर्व में राज्य सरकार में दायित्वधारी रह चुके हैं।

वे पीएमओ, राज्य सरकार और सुरक्षा एजेंसियों के बीच निरंतर समन्वय देख रहे थे, बलूनी के अलावा केवल मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को प्रधानमंत्री जी के कॉर्बेट वाले कार्यक्रम के संबंध में जानकारी थी। प्रधानमंत्री की कॉर्बेट यात्रा को बेहद गोपनीय रखा गया था पीएमओ से जुड़े अधिकारी सुरक्षा एजेंसियों के संपर्क में केवल मुख्यमंत्री और सांसद अनिल बलूनी ही थे। 

मौसम के कारण दोनों कार्यक्रमों पर अनिश्चितता के बादल छा गए थे, प्रातः लंबे इंतजार के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने जोलीग्रांट से कॉर्बेट के लिए उड़ान भरी किंतु दूसरे कार्यक्रम में नहीं पहुंच सके और उन्होंने मोबाइल से ही जनता को संबोधित किया।

सांसद बलूनी जिस तरह राज्य के हित में एक के बाद एक अनेक घोषणाएं करके उत्तराखंड से सक्रिय और प्रभावी जनप्रतिनिधि के रूप में अपनी उपयोगिता सिद्ध कर रहे हैं वह उन्हें अन्य सांसदों से अलग खड़ा करती है। उनका प्रधानमंत्री के निकट होने का लाभ बार-बार राज्य को मिल रहा है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top