देवभूमि मीडिया ब्यूरो

देहरादून : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले की मीडिया कवरेज पर सरकार के बाद अब सेना और सीआरपीएफ ने भी एडवाइजरी जारी की है।

सेना ने मीडिया संस्थानों से अनुरोध किया है कि इस निराशाजनक और दर्दनाक हालात में शहीदों के परिवार की रोने-बिलखने वाली तस्वीरों को दिखाने से परहेज किया जाए, क्योंकि आतंकवादी यही चाहते हैं कि देश में दहशत का माहौल बने. ऐसी तस्वीरें आतंकवादियों का दुस्साहस बढ़ाती हैं।

वहीं सीआरपीएफ ने भी मीडिया से अपील करते हुए कहा कि आधिकारिक रूप से पुष्टि होने तक शहीद कर्मियों के नाम फ्लैश न किए जाएं. सेना और सीआरपीएफ ने मीडिया से एडवाइजरी का पालन करने का अनुरोध किया है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top