दिल्ली उच्च न्यायालय ने गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) से लॉबिस्ट दीपक तलवार की याचिका पर जवाब मांगा है. तलवार ने एजेंसियों द्वारा उसे हिरासत में रखे जाने को चुनौती दी है. तलवार को पिछले हफ्ते संयुक्त अरब अमीरात(यूएई) से भारत प्रत्यर्पित किया गया था.

न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल और न्यायमूर्ति संगीता धींगरा सहगल की पीठ ने ईडी को नोटिस जारी किया और निर्देश दिया कि वह 11 फरवरी तक याचिका पर जवाब दाखिल करे. अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 12 फरवरी को मुकर्रर कर दी.

तलवार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि उसका दुबई से अपहरण किया गया और भारतीय अधिकारियों को सुपूर्द कर दिया गया, जबकि यूएई के साथ कोई प्रत्यर्पण संधि नहीं है. ईडी के वकील अमित महाजन ने याचिका पर प्रतिक्रिया दाखिल करने का समय मांगा.

ईडी की हिरासत में मौजूद तलवार को 30 जनवरी को दुबई से प्रत्यर्पित किया गया था और यहां आने के बाद एजेंसी ने उसे गिरफ्तार कर लिया था. ईडी ने तलवार पर एयर इंडिया के लाभदायक मार्गो पर सीट बंटवारे के मामले में विदेशी निजी विमानों को फायदा पहुंचाने के लिए बिचौलिए के रूप में काम करने का आरोप लगाया है.

एजेंसी तलवार से कतर एयरवेज, एमिरेट्स और एयर अरबिया समेत विदेशी विमानों को फायदा पहुंचाने के मामले में नागर विमानन मंत्रालय, नेशनल एविएशन कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड और एयर इंडिया के अधिकारियों के नाम जानना चाहती है.

उसके खिलाफ कथित रूप से 90.72 करोड़ रुपये की विदेशी राशि को ठिकाने लगाने के तहत आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और एफसीआरए के अन्य मामलों में आरोप दर्ज किया गया है.

इसके अलावा पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) के कार्यकाल में कुछ विमान सौदे में उसकी भूमिका संदेह के घेरे में है. तलवार पर भ्रष्टाचार के आपराधिक मामलों के लिए ईडी और सीबीआई ने मामले दर्ज किए, जबकि आयकर विभाग ने उसपर कर चोरी का मामला दर्ज किया है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top