मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने नोटबंदी, बेनामी संपत्ति और कालेधन पर वार किया है और सरकार ईमानदार लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है. प्रधानमंत्री ने मंगलवार को वाराणसी में संत रविदास मंदिर प्रांगण में सीर गोवर्धन में रैदासियों को संबोधित करते हुए कहा, “हमारी सरकार ने जनता का पैसा लूटने वालों को सजा दी है तो ईमानदारों की मदद भी की है.

संत रविदास जी के आशीर्वाद से न्यू इंडिया में बेईमानी और भ्रष्ट आचरण का कोई स्थान नहीं. ईमानदारी से जो आगे बढ़ना चाहते हैं, उनके लिए हमारी सरकार कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी मिलेगी. हाल में आपने देखा होगा जो ईमानदारी से कर देते हैं, ऐसे करोड़ों मध्यम वर्ग के साथियों को पांच लाख की आय तक कर मुक्त कर दिया गया है. ईमानदारी का सम्मान किया जा रहा है.”

उन्होंने कहा, “हमारे नौजवान साथी जो डिजिटल इंडिया के युग में सामाजिक और राजनीतिक व्यवस्था का हिस्सा बन रहे हैं, हम उनके साथ मिलकर वर्तमान स्थिति को बदलने वाले हैं. हमें उन लोगों को पहचानना होगा, जो अपने स्वार्थ और राजनीतिक लाभ के लिए जात-पात का मुद्दा उठाते हैं.”

मोदी ने कहा, “गरीब परिवारों को मुफ्त में बिजली का कनेक्शन, मुफ्त में गैस कनेक्शन, 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज, किसानों के लिए सिंचाईं व्यवस्था और 6,000 रुपये वार्षिक अनुदान के साथ ही अन्य कई ऐसी योजनाएं शुरू की गई हैं, जो वंचित वर्ग को ऊपर उठाने के लिए हैं.”

उन्होंने कहा, “गुरुजी ने ऐसे भारत की कल्पना की थी, जहां बिना किसी भेदभाव के हर किसी का ख्याल रखा जाए. हमारी सरकार पिछले साढ़े चार साल से इसी भावना को आगे बढ़ाते हुए लोक कल्याण का काम कर रही है.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “संत रविदास जी की जन्मस्थली करोड़ों लोगों के लिए आस्था और श्रद्धा का स्थल है. आपका सांसद होने के नाते मुझे भी यहां सेवा करने का मौका मिल रहा है.”

मोदी ने कहा, “परम पूज्य संत रविदास जी को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन. सद्भाव, समानता और सामाजिक सशक्तिकरण के लिए उन्होंने जो अनमोल एवं अमिट संदेश दिया, वह हमें सदा प्रेरित करता रहेगा.”

मंच पर उनके साथ राज्यपाल राम नाईक, प्रदेश सरकार की पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय भी मौजूद रहे.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top