देहरादून : 11 फरवरी से उत्तराखंड विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत हो चुकी है जो की तीसरे दिन भी हंगामे दार रहा…सदन के अंदर औऱ बाहर आज गन्ना किसानों के भुगतान और जहरीली शराब कांड को लेकर विपक्ष ने हंगामा किया. जिसके बाद बीजेपी के तीन विधायक नेता प्रतिपक्ष के कक्ष के बाहर धरने पर बैठ गए…और विपक्ष पर आरोप लगाया कि विपक्ष द्वारा उन्हें सदन के अंदर कोई सवाल करने नहीं दिया जा रहा है…कांग्रेस लगातार हंगामा कर सदन की कार्रवाही करने से रोक रही है.

 सरकार के मंत्री बजट सत्र को लेकर नहीं गंभीर, बजट पेशी के दिन गायब

लेकिन खुद सरकार के मंत्री बजट सत्र को लेकर कितने गंभीर हैं…इसका अंदाजा बाल विकास मंत्री रेखा आर्या (राज्य मंत्री) के जारी कार्यक्रम के पर्चे को देखकर लगाया जा सकता है. जी हां  बाल विकास मंत्री रेखा आर्या 14 तारीख से लेकर 17 तक देहरादून से बाहर के कार्यक्रमों में शिरकत करने जा रही है…जिससे समझा जा सकता है कि महिला और बाल विकास विभाग और पशुपालन विभाग का क्या और कैसा बजट पेश होगा…जब मंत्री खुद बजट पेशी के दौरान यानी की 15 फरवरी के दौरान सदन में नहीं होंगी. ऐसे में कैसा राज्य का और राज्य के विभिन्न विभागों का विकास होगा. ये समझा जा सकता है.

मंत्री रेखा आर्या के भ्रमण कार्यक्रम

आपको बता दें 14 तारीख को कैबिनेट मंत्री नैनीताल, रुद्रपुर और अल्मोड़ा के दौरे पर है, 15 तारीख को मंत्री रेखा आर्या अल्मोड़ा मोें ही रहेंगी और आल्मोड़ा के कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगी…16 को आल्मोड़ा में त्रिशक्ति सम्मेलन में प्रतिभाग करेंगी और फिर अल्मोड़ा से प्रस्थान कर हल्द्वानी पहुंचेंगी…और हल्द्वानी में आराम कर ट्रेन से देहरादून के लिए रवाना होंगी. और दोपहर 4.20 पर देहरादून पहुंचेंगी.

विपक्ष के हंगामे और मंत्रियों के बाहरी कार्यक्रम को देखकर बजट संत्र सिर्फ मजाक बनकर रह गया है

तो आप मंत्री रेखा आर्या के कार्यक्रमों को देखकर अंदाजा लगा सकते हैं कि सरकार के मंत्री बजट सत्र को लेकर कितना गंभीर है. ये पहली बार होगा की बजट पेशी के दिन(15फरवरी) सदन के अंदर राज्यमंत्री ही नहीं होगा. जिसका होना बेहद जरुरी है…और साथ ही उनके पास कई विभाग भी हैं जिनको लेकर भी बजट पेश करना होता है…लेकिन बाल विकास मंत्री ने सबको ठेंका दिखाते हुए बाहरी कार्यक्रम में शिरकत करने का मन बनाया है. विपक्ष के हंगामे और मंत्रियों के बाहरी कार्यक्रम को देखकर बजट संत्र सिर्फ मजाक बनकर रह गया है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top