देहरादून : विधानसभा सत्र के पहले दिन पूर्व सीएम हरीश रावत ने एक दिवसीय धरना देने और उपवास पर रहने का ऐलान किया है.

दरअसल पूर्व सीएम हरीश रावत विधानसभा के सामने गन्ना किसानों की मांगों को लेकर धरना देंगे जिसका ऐलान वो कर चुके हैं औऱ इसकी जानकारी हरीश रावत ने सोशल मीडिया फेसबुक, ट्वीटर के जरिए भी दी है.

पूर्व सीएम ने जानकारी देते हुए सोशल मीडिया पर लिखा है कि ’11 फरवरी 2019, प्रातः 10:00 बजे से विधानसभा, देहरादून के सम्मुख किसानों की विभिन्न मांगों और गन्ना किसानों के भुगतान में विलंब विषयक एक दिवसीय “सांकेतिक उपवास और धरना” में प्रतिभाग करूँगा’.

बता दें लोकसभा चुनाव पास आने को है इसको लेकर भाजपा सरकार ने कमर कस ली है…वहीं कांग्रेस भी लोकसभा की तैयारियों में जुट गई है. तो वहीं हरीश रावत चाय पार्टी, पहाड़ी व्यंजन पार्टी के साथ ही सोशल मीडिया पर खासा सुर्खियां बटोर चुके हैं. और अब सांकेतिक उपवास और धरने का ऐलान कर सत्ता धारी सरकार को जरुर झटका लगा होगा…विधानसभा सत्र के पहले दिन विपक्ष द्वारा धरना सरकार के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top