• संवैधानिक मंच ने सरकार को दिया 15 दिनों का वक़्त 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : विकासनगर में जौनसार बावर के मोती सिंह की हत्या को लेकर जनाक्रोश के बाद अब उत्तराखंड संवैधानिक अधिकार संरक्षण मंच ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस हत्याकांड को लेकर संरक्षण मंच ने सोमवार को परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल पर प्रदेश सरकार और पुलिस महकमे के खिलाफ एक दिवसीय सांकेतिक धरना दिया।

धरना स्थल पर मौजूद जौनसार बावर के ग्रामीणों को संबोधित करते हुए अधिकार संरक्षण मंच के प्रदेश संयोजक दौलत कुंवर ने कहा कि जौनसार बावर की शांत वादियों में यह हत्याकांड निंदनीय है। उन्होंने कहा कि हमें ज्ञात हुआ है कि  हत्या विकास नगर में की गई और अभी तक भी शव परिजनों को नहीं मिला है। जिससे साफ जाहिर होता है कि पुलिस महकमा इस हत्याकांड को कितनी गंभीरता से ले रहा है।

दौलत कुंवर ने कहा कि अगर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार 15 दिनों के भीतर जौनसार बावर के मोती सिंह के शव को परिजनों को नहीं सौंपती है तो संपूर्ण जौनसार बावर क्षेत्र के लोग 15 दिन के बाद देहरादून में सचिवालय का घेराव करेंगे।

इस मौके पर कुंवर ने शासन प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह संवैधानिक रूप से गरीब लोगों की आवाज उठाने के लिए गांधी पार्क में सांकेतिक धरना देना चाहते थे। लेकिन उन्हें अनुमति प्रदान नहीं की गई। इससे जाहिर होता है कि सरकार गरीबों की आवाज को दबाना चाहती है।

इस सांकेतिक धरने में मंच के प्रदेश प्रधान सचिव संदीप कुमार पाल, पूर्व विधायक प्रत्याशी चकराता स्वराज सिंह चौहान, कीर्ति सिंह चौहान, चेतन भारती, रॉबिन तोमर, प्रवेश गॉड, सुशील कुमार, संजय कुमार, अजय वर्मा, अरविंद सिंह, महेश, अमित कुमार, राहुल कुमार, बिट्टू चौहान, विदेश चौहान, बलवीर सिंह, राजेंद्र, विनोद कुमार, प्रदीप, प्रीतम कुमार, खुशीराम, राहुल, रितेश चौहान, वीरेंद्र वर्मा, रविंद्र, विवेक तोमर, अजय जोशी, सुनील चौहान, अरविंद तोमर, प्रवीण तोमर सहित बड़ी संख्या में जौनसार बावर क्षेत्र के लोग मौजूद रहे।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top