अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मंगल पर अपने अपॉच्र्युनिटी रोवर मिशन की समाप्ति की घोषणा कर दी है. यह 15 साल तक मंगल पर रहा है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, मंगलवार रात रोवर के साथ संवाद करने के अंतिम प्रयास किए गए लेकिन इसमें कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली. इसके बाद नासा द्वारा कैलिफोर्निया के पासाडेना में एजेंसी की जेट प्रोपल्शन प्रयोगशाला में एक संवाददाता सम्मेलन में बुधवार को यह घोषणा की गई.

रोवर ने पिछली बार 10 जून 2018 को पृथ्वी के साथ संचार किया था. इसके बाद ग्रह पर आए रेतीले तूफान के कारण सौर ऊर्जा संचालित रोवर से संपर्क टूट गया और करीब आठ महीने तक इससे कोई संपर्क नहीं हो पाया है.

मिशन की टीम के अनुसार, ऐसी संभावना है कि अपॉच्र्युनिटी रोवर ने ऊर्जा की कमी के कारण काम करना बंद कर दिया. टीम के सदस्यों ने हालांकि रोवर से कई बार संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन सफलता न मिलने पर इसे मृत घोषित करने का फैसला किया गया.

अपॉच्र्युनिटी के प्रोजेक्ट मैनेजर जॉन कल्लास ने कहा, “गुडबाय कहना कठिन है लेकिन समय आ गया है. इसने इतने सालों में शानदार प्रदर्शन किया है जिसके कारण एक दिन आएगा जब हमारे अंतरिक्ष यात्री मंगल की सतह पर चल सकेंगे.”





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top