गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले ने पूरे देश को झकझोर करके रख दिया है. आतंकवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए प्रधानमंत्री के सरकारी आवास लोक कल्याण मार्ग पर पीएम मोदी की अगुवाई में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी (CCS) की बैठक खत्म हो गई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में करीब एक घंटा चली CCS की बैठक खत्म हो गई है. बैठक खत्म होने के बाद बाहर आकर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पाकिस्तान को अलग थलग करने के लिए कूटनीति कदम उठाए जाएंगे. पाक को दुनिया से अलग थलग किया जाएगा.

पीएम ने कहा कि विकास की यात्रा को और ताकत देंगे. जल, थल और नभ में सबका साथ सबका विकास के मंत्र से काम करेंगे. देश पर मर मिटने वाले शहीदों को हमेशा नमन करते रहेंगे. शहीदों के रक्त के एक-एक बूंद की कीमत लेकर रहेंगे. पीएम ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि देशभक्ति के रंग में रंगे लोग सही जानकारियां भी हमारी एजेंसियों तक पहुंचाएंगे, ताकि आतंक को कुचलने में हमारी लड़ाई और तेज हो सके. पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान के मंसूबे कभी पूरे होने वाले नहीं है. अब राजनीति से उपर उठकर आतंक से लड़ने का समय है. हम डटकर मुकाबला करेंगे. देश रुकने वाला नहीं है

पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान खुद आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहा है, लेकिन वह अपने ख्वाब छोड़ दे. उसका सपना कभी पूरा नहीं होगा.पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आतंकवादी बड़ी गलती कर चुके हैं. देश एक साथ है. अब देश का एक ही स्वर है. लड़ाई हम जीतने के लिए लड़ रहे हैं. हमारा पड़ोसी अगर ये समझ रहा है कि जिस तरह की साजिश वो रच रहा है उससे भारत में स्थिरता पैदा करने में सफल हो जाएगा, तो यह ख्वाब छोड़ दे. यह कभी नहीं हो पाएगा.  पीएम मोदी ने कहा कि आज देश का खून खौल रहा है. देश गुस्से में है. पीएम मोदी ने कहा कि आतंकियों को हमले का भारी कीमत चुकानी होगी. देश आज एक साथ है.

पीएम मोदी ने कहा कि हमले के जिम्मेदार लोगों को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. जो भी गुनहगार हैं, उन्हें उनके किये की सजा अवश्य मिलेगी. इस बैठक में यह रणनीतिक तय की जाएगी की किस तरह से देश के शहीद जवानों की शहादत का बदला लेने के लिए कई अहम फैसले भी लिए गए हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बैठक में फैसला लिया गया है कि आतंकवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई को सरकार तैयार है.

पीएम मोदी की अगुवाई में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी (CCS) की बैठक में केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वारज, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और गृमंत्री राजनाथ सिंह के अलावा कई अन्य नेता भी मौजूद हैं.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top