भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव को दौरान पीएम मोदी के घर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृहमंत्री, रक्षा मंत्री, विदेश सचिव, रक्षा सचिव और खुफिया विभागों को प्रमुखों की बैठक हुई. इस बैठक में पाकिस्तान को किस तरह से जवाब देना है इसकी रणनीति पर चर्चा की गई.

बैठक के दौरान बाद केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि वर्तमान के हालातों के मद्देनजर सब कुछ मुमकिन है. एक हफ्ते का समय किसी भी देश के लिए लंबा समय है. अगर पिछले 24 घंटे को देखा जाए तो एक हफ्ता एक दिन प्रतीत होता है.

उन्होंने आगे कहा कि जब अमेरिका पाकिस्तान के एबटाबाद में घुसकर ओसामा बिन लादेन को मार सकता है, तो क्या हम ऐसा नहीं कर सकते? अरुण जेटली ने यह भी कहा कि जिस तरह से देश हमारे साथ खड़ा है उससे साफ जाहिर है कि ऐसे हालातों में सबकुछ मुमकिन है.

जेटली के इस बायन के बाद यह आशंका जताई जा रही है कि भारत भी पाकिस्तान में घुसकर आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के ठिकानों को नुकसान पहुंचा सकता है.

बैठक के दौरान बाद केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि वर्तमान के हालातों के मद्देनजर सब कुछ मुमकिन है. एक हफ्ते का समय किसी भी देश के लिए लंबा समय है. अगर पीछले 24 घंटे को देखा जाए तो एक हफ्ता एक दिन प्रतीत होता है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top