उपराज्यपाल किरण बेदी के आधिकारिक आवास के बाहर पांडुचेरी के मुख्यमंत्री का राज्यपाल के घर के बाहर विरोध प्रदर्शनके मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी और उनके पांच मंत्रियों के विरोध प्रदर्शन का गुरुवार को दूसरा दिन है. कांग्रेस नेता ने अपने मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ बुधवार की रात राज निवास के बाहर सड़क पर बिताई. वे एक मोटी चादर पर कंबल के साथ सड़क पर सो गए.

इसी बीच एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए बेदी गुरुवार सुबह चेन्नई के लिए रवाना हो गई. उनकी चेन्नई से दिल्ली जाने की संभावना है. नारायणसामी ने बुधवार को काली शर्ट और काली धोती पहनकर अपना विरोध प्रदर्शन शुरू किया. वह बेदी के खिलाफ अपनी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के कार्यान्वयन की अनुमति न देने को लेकर विरोध कर रहे है.

इनके साथ कई मंत्री और द्रमुक सांसद भी शामिल है. नारायणसामी ने बेदी पर सरकार की दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों में हस्तक्षेप करने का भी आरोप लगाया.

नारायणसामी के विरोध प्रदर्शन से दो दिन पहले बेदी ने सड़क पर उतरकर दुपहिया वाहन चालकों को हेलमेट पहनने की सलाह दी थी. बेदी दुपहिया वाहन चालकों के लिए हेलमेट का नियम एक ही बार में लागू कराना चाहती हैं, जबकि नारायणसामी चाहते हैं कि यह विभिन्न चरणों में हो. वहीं, बेदी ने बुधवार शाम को नारायणसामी को 21 फरवरी को बैठक करने के लिए आमंत्रित किया.

बेदी ने नारायणसामी को लिखे अपने पत्र में कहा, “पत्र में जिन सभी मामलों का आपने उल्लेख किया है उनके विचारशील जवाब के लिए जांच की आवश्यकता है. कहने की जरूरत नहीं है कि राज निवास (जैसा कि आरोप लगाया जा रहा है) में कोई भी मुद्दा लंबित नहीं है. इसके अलावा आपने अपने पत्र में कहीं नहीं कहा कि जब तक आपको 13 फरवरी तक जवाब नहीं मिल जाता..आप और आपके सहयोगी बाहर आकर धरने पर बैठेंगे.”

बेदी ने कहा, “मैं हालांकि 21 फरवरी को सुबह 10 बजे इन मामलों पर विस्तृत चर्चा के लिए आपको आमंत्रित करती हू.” नारायणसामी और अन्य मंत्रियों द्वारा अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखने के बाद यहां की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top