सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के खिलाफ सीबीआई की याचिका पर सुनवाई मंगलवार तक के लिए टाल दी. कुमार शारदा चिटफंड घोटाले से संबंधित सबूतों को नष्ट करने के कथित आरोपी हैं. प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने सोमवार को मामले की जल्द सुनवाई के महान्यायवादी तुषार मेहता के आग्रह को खारिज कर दिया.

स्थिति को ‘असाधारण’ बताते हुए मेहता ने कहा, “हमें डर है कि सबूतों को नष्ट कर दिया जाएगा.”

इसकी प्रतिक्रिया में, प्रधान न्यायाधीश ने कहा, “हमें अदालत पहुंचने में कुछ विलंब हो गया, क्योंकि हम आपकी याचिका पढ़ रहे थे..आप जो अभी कह रहे हैं, उस बात के कोई सबूत नहीं हैं.”

उन्होंने कहा, “अगर आप सबूतों के साथ छेड़छाड़ या ऐसा सोचने के बारे में एक सबूत भी पेश करेंगे तो, हम इस पर इतनी कड़ी कार्रवाई करेंगे कि उन्हें पछताना पड़ेगा.”

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चिटफंड घोटाले के सिलसिले में सीबीआई द्वारा कोलकाता पुलिस प्रमुख से पूछताछ के प्रयास के विरोध में सोमवार को भी अपना धरना-प्रदर्शन जारी रखा है. वह रविवार रात से धरने पर हैं.

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह पर उनकी सरकार को अस्थिर करने का आरोप लगाया है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top