देहरादून : सोमवार को उत्तराखंड विधानसभा बजट सत्र की शुरुआत हंगामेदार रही। हरिद्वार जिले में हुए जहरीली शराब कांड को लेकर विपक्ष ने हंगामा कर दिया। सत्र शुरू होते ही राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने अभिभाषण पढ़ा, लेकिन इस दौरान सदन में विपक्ष ने शराब कांड को लेकर हंगामा कर दिया।

विपक्ष के विधायकों ने हाथों में नारे लिखी तख्तियां उठाई। वहीं नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने जहरीली शराब कांड पर विपक्ष ने आबकारी मंत्री के इस्तीफे की मांग भी की। हंगामा करते हुए सरकार को बर्खास्त करने की मांग कर डाली। जिसके बाद राज्यपाल के अभिभाषण का बहिष्कार कर विपक्ष ने वॉकआउट कर दिया और कांग्रेसी विधायक धरने पर बैठ गए।

आबकारी मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि जहरीली शराब मामले पर दोषी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की गई है। जहरीली शराब से मरने वालों के परिजनों को सरकार की तरफ से 2-2 लाख का मुआवजा दिया गया है। भविष्य में ऐसी किसी घटना दोबारा न हो इसके लिये अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये गये हैं।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top