पुलवामा में जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर जैश-ए-मोहम्मद के एक आतकंवादी द्वारा किए गए एक आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 49 जवानों की शहादत के बाद शुक्रवार को यहां लगाया गया कर्फ्यू शनिवार को भी जारी है.

एक अधिकारी ने कहा, “अगले आदेश तक कर्फ्यू जारी रहेगा. हम कानून और व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करने के बाद इस पर फैसला लेंगे.” मोबाइल इंटरनेट सेवा भी शुक्रवार को बंद कर दी गई थी जो शनिवार को भी जारी है.

समाज विरोधी तत्वों द्वारा शहर में शांति भंग करने के इरादे से सोशल मीडिया पर भड़काऊ तस्वीरें और कमेंट्स अपलोड करके स्थिति को और तनावपूर्ण बनाने से रोकने के लिए फिक्सडलाइन ब्रॉडबैंड कनेक्शन्स की स्पीड भी कम कर दी गई है.

शुक्रवार को कुछ असमाजाकि तत्वों ने कश्मीर घाटी के रजिस्ट्रेशन नंबरों वाले कुछ वाहनों को आग के हवाले करने और क्षतिग्रस्त करने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था. शनिवार को नेशनल हाइवे खोल दिया गया है. फंसे हुए वाहनों को निकालने के बाद जम्मू से श्रीनगर की और जाने की अनुमति दी जाएगी. इस बात की जानकारी परिवहन विभाग के एक अधिकारी ने दी. बताया जा रहा है कि कश्मीर घाटी में करीब 7,000 वाहन फंसे हुए हैं. धीरे धीरे सभी को निकाला जा रहा है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top