देहरादून :पुलवामा में हुए आतंकी हमले में को अभी 48 घंटे भी नहीं हुए हैं कि जम्मू कश्मीर में आतंकवादी ने एक और  कायराना हरकत की जिसमें उत्तराखंड का एक और लाल मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए। जोकि जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के समीप मेजर जांच के लिए जा रहे थे और आतंकियों द्वारा लगाए गए आईईडी को डिफ्यूज करते समय वो शहीद हो गए।

वहीं शहादत की खबर मिलते ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट के नहर कॉलोनी स्थित घर पहुंचे और उनके परिवार वालों को सांत्वना दी साथ ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने शहीद के परिवार का हर समय साथ खड़े होने का आश्वासन दिया. इस दौरान उनके साथ पूर्व देहरादून मेयर विनोद चमोली भी मौजूद रहे।

मूलत रानीखेत के रहने वाले

आपको बता दें मेजर चित्रेश बिष्ट मूलतः रानीखेत के रहने वाले हैं जो की भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट की विधानसभा क्षेत्र है।

आज ही हुआ था उत्तराखंड के 2 शहीदों का अंतिम संस्कार

आपको बता दें पुलवामा में हुए आतंकी हमले में उत्तराखंड के दो लाल शहीद हो गए थे जिसमें एक जवान उत्तरकाशी निवासी थे जबकि दूसरा जवाब उधम सिंह नगर के खटीमा का निवासी था और आज ही उनका अंतिम संस्कार किया गया था। तभी देर शाम एक और उत्तराखंड के लिए बुरी खबर आई जिसमें सेना अधिकारी जो की देहरादून के निवासी थे शहीद हो गए।

वहीं सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत न सोशल मीडिया के जरिए शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर शोक व्यक्त किया.

खबर के मुताबिक मेजर इंजिनियर के जत्थे से थे। दो अन्य सैनिक भी घायल हुए हैं , आईईडी नौशेरा सेक्टर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के 1.5 किलोमीटर अंदर लगाई गई थी।

पिता उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर पद पर थे

मेजर चित्रेश बिष्ट  देहरादून के नेहरू कॉलोनी में रहते हैं जानकारी के मुताबिक अगले माह मार्च में वह विवाह बंधन में बंधने वाले थे। शहीद चित्रेश के पिता उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर थे। जो कुछ दो साल पहले ही रिटायर हुए हैं। सैन्य प्रवक्ता ने भी आईईडी ब्लास्ट में एक मेजर के शहीद तथा एक जवान के घायल होने की पुष्टि की है।





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top