अमेरिका ने जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले की निंदा की है और पाकिस्तान से अपनी सरजमीं से संचालित हो रहे सभी आतंकवादी समूहों को समर्थन नहीं देने और उन्हें सुरक्षित पनाहगाह देने को फौरन बंद करने के लिए कहा है. हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 45 जवान शहीद हुए हैं. पाकिस्तान स्थित संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) ने गुरुवार को पुलवामा जिले में हुए हमले की जिम्मेदारी ली है.

व्हाइट हाउस ने गुरुवार देर शाम एक बयान में कहा, “अमेरिका ने पाकिस्तान से अपनी सरजमीं से संचालित हो रहे सभी आतंकवादी समूहों का समर्थन बंद करने के लिए कहा है. साथ ही उससे आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराने को फौरन बंद करने के लिए कहा है जिनका एकमात्र लक्ष्य इस क्षेत्र में अराजकता, हिंसा और आतंकवाद फैलाना है.”

बयान में कहा गया है, “हम इस नृशंस हमले में शहीदों के परिवारों, भारत सरकार और भारतीय लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं.” बयान में कहा गया है कि यह हमला अमेरिका और भारत के बीच आतंकवाद से निपटने के हमारे संकल्प को मजबूत करता है.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top